बिहार खबरें

UAE golden visa ke liye kaise apply kare: UAE दुनिया के टॉप मोस्ट डेस्टीनेशन्स में से एक है। इसी कारण भारत के कई इंवेस्टर्स और व्यवसायी इस देश में बसने का तरीका सोचते हैं। यूएई सरकार ने अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए टॉप टैलेंट्स को अकर्षित करने के मकसद से कई योजनाएं शुरू की। इनमें से एक योजना यूएई गोल्डन वीजा (UAE golden visa in hindi) है। अगर आप यूएई जाना चाहते हैं, तो आपको वहां के लिए गोल्डन वीजा के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। दरअसल, गोल्डन वीजा (Golden UAE visa) इंवेस्टर्स, व्यवसायी, रिसर्चर्स, मेडिकल प्रोफेशनल और साइंस एंड नॉलेज फील्ड से जुड़े लोगों को लंबे समय तक यहां बसने या रहने की इजाजत देता है।

UAE golden visa ke liye kaise apply kare

बता दें कि यह वीजा योजना वर्ष 2019 में लागू की गई थी। योजना विदेशियों को संयुक्त अरब अमीरात में काम करने, रहने अेर रिसर्च करने में भी सक्षम बनाती है। आमतौर पर, अन्य वीजा योजनाओं में व्यक्ति के पास एक नेशनल स्पॉन्सर होना जरूरी है, लेकिन गोल्डन वीजा के साथ आपको इसकी जरूरत नहीं पड़ेगी। अगर आप भी यूएई में अस्थाई रूप से रहना चाहते हैं या वहां रहकर अपना कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो आपको गोल्डन वीजा के लाभों और इसके नियमों के बारे में पता होना चाहिए।

क्या है UAE गोल्डन वीजा – What is UAE Golden Visa

UAE golden visa ke liye kaise apply kare

गोल्डन वीजा (UAE ka golden visa kya hai) प्रणाली मुख्य रूप से इंवेस्टर्स , रिर्सर्चस, स्टूडेंट्स और टैलेंटेड छात्रों को यूएई में 5 से 10 साल तक यहां रहने का परमिट प्रदान करती है। यूएई सरकार ने देश में प्रतिभाशाली लोगों को बनाए रखने के उद्देश्य से गोल्डन वीजा की शुरूआत की। चूंकि यह बहुत आसान प्रक्रिया है, इसलिए इसे कोई भी कर सकता है। यू्एई में सबसे आम ‘रोजगार वीजा’ है, जहां एमप्लॉयर द्वारा एक एम्प्लॉयी को स्पॉन्सर किया जाता है, जहां उसे दो से तीन साल तक रहने की अनुमति होती है। हालांकि, यूएई गोल्डन वीजा के बारे में सबसे दिलचस्प बात (what is the golden visa) यह है कि यह वीजा 5 से 10 साल तक के लिए रेसीडेंसी देता है। इसे कौन ले सकता है, इस संबंध में यहां के अधिकारियों ने सख्त नियम बनाए हुए हैं।

आगे पढ़ें: अगर आप भी अमेरिकी वीजा के लिए अप्लाई करना चाहते हैं, तो यहां मिलेगी हर जानकारी

गोल्डन वीजा का फायदा – Benefits of UAE Golden Visa

ऐसे लोग जिनके पास गोल्डन वीजा होगा उन्हें आम वीजाधारकों की तुलना में कई अतिरिक्त सुविधाएं मिलेंगी। मसलन, सबसे अहम सुविधा यह है कि वे बिना किसी अन्य व्यक्ति या कंपनी की सहायता के अपने पति या पत्नी और बच्चों के साथ यूएई में रह सकेंगे। अभी तक इसके लिए स्पॉन्सर की आवश्यकता पड़ती थी।

इस वीजा का एक और फायदा यह भी मिलेगा कि गोल्डन वीजाधारक तीन कर्मचारियों को स्पॉन्सर भी कर सकेंगे। इसके अलावा वह अपनी कंपनी के किसी वरिष्ठ कर्मचारी को रेसीडेंसी वीजा भी दिलवा सकेंगे। बता दें कि शेख मोहम्मद ने कहा था कि गोल्डन वीजा वितरण के पहले दौर में 70 से अधिक देशों के 6800 लोगों को यह वीजा दिया जाएगा।

गोल्डन कार्ड वीजा से संबंधित एक प्रेस वार्ता में यूएई के रेसीडेंसी और विदेशियों के मामले देखने वाले जीडीआरएफए विभाग के महानिदेशक मेजर जनरल मोहम्मद अली मारी ने बताया था कि इस वीजा की अवधि 10 साल होगी। अवधि पूरी होने पर इसे रिन्यू करवाना पड़ेगा।

आगे पढ़ें: चुटकियों में मिलेगी इन देशों की नागरिकता, बस करना होगा ये काम

यूएई गोल्डन वीजा कौन ले सकता है – Who can carry UAE Golden Visa

आवेदन प्रक्रिया बहुत सरल है। कैंडीडेट्स को पेपर वर्क जमा (UAE golden visa rules) करना होता है। इसके बाद अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें पूरी तरह से तैयार रहना चाहिए। हालांकि, योग्यता मानदंड वीजा की अवधि के आधार पर अलग-अलग हो सकती है। इसके अलावा, इंवेस्टर्स और टैलेंटेड लोग दस साल के वीजा के पात्र हैं, जबकि बिजनेसमेन और छात्रों को पांच साल का वीजा दिया (UAE golden visa ke liye kaise apply kare) जाता है।

गोल्डन वीजा की पात्रता मानदंड क्या है – Qualification for UAE Golden Visa

10 साल के वीजा के लिए आवेदन करने वाले निवेशकों का, यूएई की एक फर्म (UAE golden visa eligibility) में पूंजी के रूप में कम से कम 20 करोड़ का सार्वजनिक निवेश होना चाहिए। वहीं दूसरी तरफ पांच साल का वीजा चाहने वाले इन्वेस्टर्स के लिए निवेश राशि कम से कम निवेश 10 करोड़ रूपए (UAE golden visa price) है। इसी बीच कला और संस्कृति में प्रतिभा वाले लोगों को अमीरात वैज्ञानिक परिषद या संस्कृति व युवा मंत्रालय जैसे अधिकारियों द्वारा अप्रूव किया जाता है। मिनिमम ग्रेड 95 प्रतिशत और ग्रेजुएशन (UAE golden visa for students) में कम से कम 3.75 के औसतन ग्रेड पॉइंट वाले छात्र 5 साल के यूएई रेजिडेंसी वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

आगे पढ़ें: Dubai me job kaise paye | घर बैठे दुबई में जॉब पाना हुआ और भी आसान, वो भी बिल्कुल फ्री, आइए जानते हैं कैसे

यूएई गोल्डन वीजा के लिए आवेदन कैसे करें – How to apply for UAE Golden Visa

ऐसे व्‍यक्ति जो गोल्डन वीजा के लिए अप्‍लाई (UAE golden visa application) करना चाहते हैं वो ICA की वेबसाइट के जरिए संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा यूएई के विदेश मंत्रालय के तहत काम करने वाले जनरल डायरेक्टर ऑफ रेजीडेंसी एंड फॉरेनर्स अफेयर्स (GDRFA) के जरिये भी अप्लाई (UAE golden visa ke liye kaise apply kare) किया जा सकता है। जहां ICA के जरिये सिर्फ ऑनलाइन आवेदन (UAE golden visa ke liye kaise apply kare) किया जा सकता है तो GDRFA में ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से अप्‍लाई करने की सुविधा है। वीजा हासिल करने वाले व्‍यक्तियों को जरूरी डॉक्‍यूमेंट्स और अपने बिजनेस को यूएई शिफ्ट करने से जुड़े कागजात जमा करने होते हैं।

यूएई गोल्डन वीजा प्राप्त करने वाले भारतीय – Indian Celebrities who have UAE Golden Visa

कई भारतीय हस्तियों को यूएई का गोल्डन वीजा जारी किया गया है, जो उन्हें देश में लंबे समय तक रहने की अनुमति देता है। शाहरूख खान उन पहले भारतीय सेलेब्स में से एक हैं, जिनके पास यूएई का गोल्डन वीजा है। बोनी कपूर के परिवार जिसमें जान्हवी कपूर, अर्जुन कपूर, ,खुशी कपूर और अंशुला कपूर को भी 10 साल का गोल्डन वीजा दिया गया है। इसके अलावा संजय दत्त, संजय कपूर और सलमान खान के पास भी गोल्डन वीजा है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.