बिहार खबरें

प्रेग्नेंसी के बाद या मोटापा के कारण स्किन में स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks) पड़ जाते हैं। यह सिर्फ महिलाओं को ही नहीं बल्कि पुरुषों को भी इस समस्या (Stretch marks men) का सामना करना पड़ता है। उसका मुख्य कारण वजन बढ़ना या घटना (stretch marks after weight loss) हो सकता है। सबसे पहले स्ट्रेच मार्क्स (Pregnancy stretch marks) हल्के लाल या बैंगनी रंग की नसों की तरह दिखते हैं जो धीरे-धीरे एक मोटी, सुनहरे रंग में बदल जाती हैं। हालांकि स्ट्रेच मार्क्स होना से कोई नुकसान नहीं होता है लेकिन ये देखने में काफी खराब लगते हैं। जिससे छुटकारा पाने के लिए कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट (Natural stretch mark cream) का भी इस्तेमाल करते हैं। लेकिन इनके कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। ऐसे में अगर आप इस समस्या से निजात पाना चाहते हैं तो कुछ घरेलू उपाय (How To Remove Stretch Marks in Hindi) भी अपना सकते हैं। इससे आपको नैचुरल तरीके से स्ट्रेच मार्क्स से निजात (Stretch mark removal) मिलेगा।

Table of Contents

स्ट्रेच मार्क्स क्या होता है ? (How To Remove Stretch Marks in Hindi)

How To Remove Stretch Marks in Hindi

जब आपका शरीर सामान्य तौर पर बढ़ता है तो त्वचा (Skin stretch marks) भी शरीर के विकास के हिसाब से फैलती है। हालांकि अगर आपका वजन अचानक तेजी से बढ़ (Stretch marks before and after weight loss) जाए तो भी त्वचा के लिए उससे मेल बिठा पाना मुश्किल हो जाता है। इस प्रक्रिया में त्वचा के नीचे मौजूद फाइबर टूट जाते हैं, जिससे स्ट्रेच माक्र्स हो जाते हैं। गर्भावस्था के दौरान भी यही होता है। गर्भावस्था के नौ महीने में एक गर्भवती महिला का वजन औसतन 15-20 किलोग्राम तक बढ़ जाता है। इसमें अधिकांश वसा पेट के आसपास (Stretch marks on belly) वाले हिस्से में बढ़ती है। यही वजह है कि गर्भावस्था में सबसे ज्यादा स्ट्रेच माक्र्स पेट (Stretch marks during pregnancy) के आसपास वाले हिस्से में ही नजर आता है। अगर आप किसी तरह से अपनी त्वचा को ज्यादा से ज्यादा खींचने में मदद कर पाती हैं तो आपको स्ट्रेच माक्र्स उतने ही कम होंगे।

आगे पढ़ें: कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट में गलती को कैसे सुधारे | How to Correct Covid Vaccine Certificate in Hindi

स्ट्रेच मार्क्स होने के क्या कारण है ? (Cause of stretch marks)

How To Remove Stretch Marks in Hindi

त्वचा पर इस प्रकार के निशान केवल खिंचाव से नहीं बल्कि वजन बढऩे और त्वचा के विकास से भी होते हैं। हमारे शरीर में मौजूद कार्टिसोन हार्मोन एडे्रनल ग्रंथि से स्त्रावित होता है। अधिक मात्रा में इस हार्मोन के स्त्रावण से त्वचा का कसाव कम होने लगता है जिससे त्वचा ढीली पडऩे लगती है। साथ ही हार्मोन में गड़बड़ी से भी यह निशान उभरने लगते हैं। जिम में जरूरत से ज्यादा स्ट्रेचिंग से भी ऐसा होता है। गर्भावस्था के दौरान गर्भ के साथ पेट का आकार बढ़ने से त्वचा उस अनुपात में तेजी से नहीं फैल पाती जिससे स्ट्रेच मार्क्स बनने लगते हैं। शुरुआत में त्वचा के लाल पड़ने (Red stretch marks) के साथ खुजली जैसे लक्षण सामने आएं तो इसे लीनिया रूब्रा कहते हैं। धीरे-धीरे जब इनका रंग फीका (White stretch marks) पडऩे लगे तो इस स्थिति को लीनिया अल्बा कहा जाता है। महिलाओं में पेट, ब्रेस्ट व जांघ (Stretch marks on thighs) जैसे भागों पर ऐसे निशान ज्यादा उभरते हैं। इसके अलावा पुरुषों को भी यह समस्या होती है।

आगे पढ़ें: बालों को झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय | Home remedies for hair fall and regrowth

स्ट्रेच मार्क्स से कैसे बचें ?(Home Remedies For Stretch Marks In Hindi)

मॉइश्चराइजिंग क्रीम (Stretch marks removal cream)

How To Remove Stretch Marks in Hindi

आपकी प्रेग्नेंसी कंफर्म हो गई तो ऐसे में स्ट्रेच मार्क्स के आने का इंतजार करने से बेहतर है कि आप उन जगहों पर जहां मार्क्स के आने की संभावना सबसे ज्यादा है वहां मॉइश्चराइजिंग क्रीम (Stretch mark cream) लगाना शुरू कर दें ताकि स्किन की इलास्टिसिटी बनी रहे। पेट, ब्रेस्ट, जांघ और लोअर बैक- ये कुछ ऐसे हिस्से हैं जहां सबसे ज्यादा फैट जमा रहता है और इन जगहों पर स्ट्रेच मार्क्स (How To Remove Stretch Marks in Hindi) सबसे ज्यादा उभरते हैं। लिहाजा आप विटमिन ई, कोको बटर और शिया बटर से युक्त क्रीम चुनें और उसे नियमित रूप से दिनभर में 2-3 बार स्किन पर लगाती रहें, खासकर सोने से पहले। ऐसा करने से स्ट्रेच मार्क्स (Deep stretch marks) को आने से रोका जा सकता है।

कोको या शिया बटर का इस्तेमाल (cocoa butter for stretch marks)

How To Remove Stretch Marks in Hindi

स्ट्रेच माक्र्स से बचने या उन्हें कम करने के लिए कोको बटर या शिया बटर का इस्तेमाल प्रभावी होता है। किसी अच्छे ब्रांड का कोको बटर या शिया बटर खरीदें और हल्के हाथों से अपने पेट पर  लगाएं। गर्भावस्था की दूसरी तिमाही शुरू होते ही इसका इस्तेमाल करना आरंभ कर दें।

आहार की भूमिका है अहम (Home Remedies For Stretch Marks In Hindi)

How To Remove Stretch Marks in Hindi

सेहतमंद भोजन का सेवन भी स्ट्रेच माक्र्स की रोकथाम (How To Remove Stretch Marks in Hind) में मदद करता है। गर्भावस्था के दौरान आप क्या-क्या खा रही हैं, इसपर नजर रखना जरूरी है। एक संतुलित आहार की मदद से आप अपनी त्वचा को और लचीला बना सकती हैं। संतुलित मात्रा में पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लें ताकि शरीर को सभी जरूरी पोषण तो मिले, पर वजन संतुलित मात्रा में ही बढ़े। अपने आहार में ज्यादा से ज्यादा विटामिन सी (ब्रोकली, अमरूद, नीबू आदि) युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें। इससे शरीर में कॉलेजन व कार्टिलेज का निर्माण ज्यादा मात्रा में होता है। यह दोनों ही त्वचा का लचीलापन बढ़ाते हैं। खाने में जिंक (ड्राई फ्रूट, चिकन, अंडा और साबुत अनाज आदि) शामिल करके भी आप कॉलेजन बढ़ा सकती हैं। साथ ही इससे फ्री रैडिकल से होने वाले नुकसान को भी रोका जा सकता है। ज्यादा विटामिन ई (हरी सब्जियों में) को डाइट में शामिल करके भी आप त्वचा को सेहतमंद बना सकती हैं। वहीं विटामिन ए युक्त खाद्य पदार्थ जैसे गाजर, शकरकंद आदि की मदद से आप अपनी त्वचा को तंदुरुस्त रख सकती हैं।

तरल पदार्थों से बढ़ाएं दोस्ती

How To Remove Stretch Marks in Hindi

त्वचा को लचीला बनाने और शरीर को सेहतमंद रखने के लिए पानी व अन्य तरल पदार्थ भी भरपूर मात्रा में पिएं। ज्यादा पानी पीने से शरीर से सभी विषैले पदार्थ बाहर निकल जाएंगे।  रोजाना आठ से 10 ग्लास पानी पिएं। खाने में खीरा और तरबूज जैसे फल शामिल करें। इसके अलावा नियमित रूप से हल्के-फुल्के व्यायाम जैसे टहलना, एरोबिक्स  व योगासन आदि भी एक्सपर्ट की निगरानी में करें। गर्भावस्था में भी नियमित रूप से व्यायाम करने से रक्तसंचार बेहतर होगा और त्वचा का लचीलापन बढ़ेगा।

नियमित रूप से तेल लगाएं

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

तेल त्वचा को बेहतरीन तरीके से नमी प्रदान करता है। इनमें एंटीऑक्सिडेंट्स भी होते हैं, जो त्वचा को होने वाले नुकसान को कम कर सकते हैं। स्ट्रेच माक्र्स से बचने के लिए सबसे अच्छे तेलों में नारियल का तेल, विटामिन ई ऑयल, बादाम का तेल आदि हैं। आप अपनी सुविधा के अनुसार  इनमें से किसी एक तेल का चुनाव करें और सुबह नहाने के बाद और रात में सोने से पहले पेट और जांघों पर लगाएं। अगर दिन में त्वचा में खुजली महसूस होती हो तो दिन भर में दो की जगह चार बार तेल लगाएं और इस दौरान पेट पर दबाव न डालें।

एप्रीकॉट मास्क

एप्रीकॉट फल का पेस्ट बनाकर, इसे स्ट्रेच मास्क वाली जगह पर लगायें, 15 min लगे रहने के बाद साफ कर लें। इसे लगातार उपयोग करने से फायदा जल्द नजर आएगा।

ग्लिसरीन

ग्लिसरीन में 1-2 बूँद नीम्बू के रस की मिलाएं, फिर इसे स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह में धीरे धीरे लगायें। इसे दिन में 2 बार लगायें, इससे स्ट्रेच मार्क्स दूर होने के साथ साथ स्किन में मोइस्चर आएगा।

आगे पढ़ें: घर बैठे इन आसान तरीकों से करें प्रेग्नेंसी टेस्ट | Pregnancy test at home

स्ट्रेच मार्क्स या खिंचाव के निशान हटाने के घरेलू उपाय (Home remedies for stretch marks)

स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks treatment) से पूरी तरह बचना तो मुमकिन नहीं है, लेकिन कुछ आसान उपाय की मदद से आप घर पर भी इन स्ट्रेच मार्क्स को दूर कर सकती हैं।

चीनी बादाम तेल का स्‍क्रब

स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks after pregnancy) को दूर करने के लिए त्वचा पर चीनी के स्क्रब को रगड़ने से भी ये हल्‍के पड़ने लगते हैं। हेल्थालाइ की एक रिपोर्ट के मुताबिक इसके लिए एक कप चीनी में बादाम का तेल या नारियल का तेल मिलाएं। इसमें कुछ बूंदें नींबू का रस भी डालें। अब अपने शरीर के उस हिस्से पर जहां स्क्रैच मार्क्स (How To Remove Stretch Marks in Hindi) हैं, वहां इस मिश्रण से स्क्रब करें। आप सप्ताह में कई बार इसे दोहराएं।

एलोवेरा है फायदेमंद

एलोवेरा त्वचा सम्बन्धी सभी परेशानी को हटाने का रामबाण इलाज (Stretch marks cure) है। चाहे चेहरे पर कील, मुहांसे हो, या उनके दाग, काले घेरे या किसी भी प्रकार के निशान, अलोवेरा हर मर्ज की दवा है। इसे किसी भी रूप में उपयोग किया जा सकता है। इसे लगाना बहुत ही आसान है।

एलोवेरा के गुदे को निकाल कर इसे चेहरे पर लगाने से चेहरे की झाइयाँ, कालेघेरे, दाग धब्बे एवं निशान कम होने लगते हैं और चेहरा और त्वचा चमकने लगते हैं। इसे शरीर के किसी भी अंग के निशान मिटाने के लिए प्रयोग किया जा सकता है।

एलोवेरा के जैलिय तत्त्व को विटामिन-ई के कैप्सूल के तेल के साथ मिलाकर भी त्वचा के निशान पर लगाने से फायदा मिलता है।

नारियल का तेल (Remedies for stretch marks)

स्ट्रेच मार्क्स के लिए स्किन पर नारियल का तेल लगाया जा सकता है। इससे ये जल्दी ठीक हो सकते हैं। प्रत्येक दिन अपने स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks removel) पर नारियल का तेल लगाने से लाल रंग की स्किन ठीक होने लगती है। हालांकि आप इसे तब ही इस्‍तेमाल करें अगर आपको नारियल से एलर्जी न हो।

पर्याप्‍त पानी पिएं

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

खूब सारा पानी पिएं, इससे त्वचा लचीली होती है। आप पानी की अधिकता वाले फल और सब्जियों जैसे कि तरबूज, खीरा, लौकी वगैरह का सेवन भी कर सकती हैं।

अंडे की सफेदी (natural remedies for stretch marks)

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

अंडा प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत है। अंडे की सफेदी में एमिनो एसिड और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है। जिस भी जगह पर किसी प्रकार के निशान हो, उस पर अंडे की सफेदी को 15-20 मिनट तक (जब तक सुख ना जाये) लगा कर रखिये। फिर उसे ठन्डे पानी से धो लीजिए। इसके बाद उस पर नमी के लिए जैतून का या कोई और तेल लगाइए। ऐसा रोजाना कुछ दिनों तक करने पर स्ट्रेच मार्क्स हल्के (How To Remove Stretch Marks in Hindi) होने लगेंगे।

आलू तथा आलू का रस

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

आलू में विटामिन तथा खनिज पाये जाते हैं, जो कि त्वचा की कोशिकाओं के बढ़ने में सहायक होते हैं। चूँकि शरीर पर स्ट्रेच मार्क्स (Natural stretch mark removal) के होने की मुख्य वजह शरीर के अंदर के तन्तु तथा कोशिकाओं में खिंचाव है, इसलिए इन तन्तु को सही मात्रा में को बढ़ाने के लिए आलू बहुत ही अच्छा स्त्रोत है।

आलू का एक टुकड़ा काटिये, इसे कुछ समय के लिए स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर लगाइए  और सूखने दीजिये। ध्यान रहे आलू का रस निशान वाली जगह पर अच्छे से फ़ैल जाए। इसके सूखने  के बाद इसे गुनगुने पानी से साफ़ कर लीजिए। कुछ ही दिनों में सभी प्रकार के निशान कम होने लगेंगे।

निम्बू का रस

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

निम्बू के रस का इस्तेमाल स्ट्रेच मार्क्स को कम करने (How To Remove Stretch Marks in Hindi) का एक बहुत ही आसान उपाय है। यह प्राकृतिक रूप से अम्लीय (एसिडिक) होता है जो की त्वचा पर झाइयों, काले घेरे, कील मुहांसे आदि से होने वाले निशान को हटाने में सहायक होता है।

निम्बू के रस को प्रभावित जगह पर धीरे धीरे ऊँगली से गोल घुमाते हुए मालिश करिये। फिर इसे थोड़ी देर रहने दीजिये, ताकि त्वचा अंदर तक इसे सोंख ले। फिर गुनगुने पानी से धो लीजिए, थोड़े ही दिनों में किसी भी प्रकार का निशान छूमंतर होने लगेगा ।

निम्बू का रस तो बहुपयोगी है। इसे गुलाब जल तथा ककड़ी के रस के साथ बराबर मात्रा में मिला कर स्ट्रेच मार्क्स  (Stretch marks removal at home) पर लगाने से भी फायदा होता है ।

विटामिन ए

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

विटामिन ए आपकी त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बेहतर माना जाता है। यह कुछ खाद्य पदार्थों जैसे गाजर और शकरकंद में भी यह भरपूर मात्रा में होता है। ये आहार आपके विटामिन ए के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

सेब का सिरका

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

सेब का सिरका लगाकर देखें। कुछ दिनों में फर्क नजर आ जाएगा। निशान हटाने के लिए सेब के सिरके को पानी में घोलकर 20 मिनट के लिए निशान पर लगाएं। गुनगुने पानी से साफ कर लें।

खीरा

Home Remedies For Stretch Marks In Hindi

नींबू के रस में मौजूद नेचुरल एसिड निशान को कम करने में मदद करता है और खीरे का रस आपकी स्किन को फ्रेश रखने में मदद करता है। इसके लिए नींबू के रस और खीरे के रस को बराबर मात्रा में लेकर प्रभावित जगह पर लगाएं। करीब 10 मिनट के बाद आप गुनगुने पानी से धो लें।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *