बिहार खबरें

Kidney ko kaise healthy rakhe : पिछले 15 सालों में किडनी रोगों के मामलों में दोगुना वृद्धि हुई है। बिगड़ती जीवनशैली और अस्वस्थ खान-पान इसकी बड़ी वजह है। शरीर से बेकार और विषैले तत्व बाहर निकालने की जिम्मेदारी किडनी की है और किडनी को साफ रखने (Kidney ki safai kaise karen) की जिम्मेदारी हमारी। अच्छी बात यह है कि हम रोज प्राकृतिक तरीकों को अपनाकर किडनी को स्वस्थ रख (Kidney ko kaise thik kare) सकते हैं। शरीर से बेकार की चीजों को बाहर निकालने के लिए किडनी यानी गुर्दों (Gurde ki bimari) की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। किडनी शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स को संतुलित रखती है और हार्मोन बनने की प्रक्रिया में भी मदद करती है। गुर्दे, शरीर में सीने की हड्डियों के नीचे रीढ़ के दोनों ओर दो छोटे से अंग हैं। आम तौर पर अच्छा आहार लेने और पर्याप्त पानी पीने से आपकी किडनी ठीक रहती है। स्वस्थ गुर्दे खून को साफ करते हैं तथा बेकार चीजों को पेशाब के जरिए शरीर से बाहर कर देते हैं। ऐसा न होना किडनी में समस्याएं खड़ी (kidney samasya ) कर देता है।

Kidney ko kaise healthy rakhe

किडनी को स्वस्थ रखने (Kidney ke bare mein bataiye) के लिए उन पदार्थों को खाने से बचना चाहिए जिनमें बीज होता है। जिन लोगों की किडनी खराब होने (kidney fail hone ke karan) लगती है। उनका जीवन मुश्किल भरा हो जाता है। ऐसे में अगर आप अपनी कुछ आदतों में परिवर्तन करेंगे तो निश्चित ही किडनी स्वस्थ रहेगी। जिससे आपका शरीर भी सेहतमंद होगा। तो आइए जानते हैं किडनी को स्वस्थ (kidney ko kaise healthy rakhe) बनाए रखने के उपाय के बारे में।

किडनी को स्वस्थ रखने के लिए अपनाएँ इन उपायों को | Kidney ko kaise healthy rakhe

Kidney ko kaise healthy rakhe

व्यायाम करें

व्यायाम कई किडनी रोग (kidney kharab hone ke lakshan) जोखिम कारकों कंट्रोल में रखने में मदद करता है। एक नियमित व्यायाम  दिनचर्या आपको स्वस्थ वजन बनाए रखने, मधुमेह और हृदय रोग को रोकने और रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करेगी। व्यायाम न सिर्फ आपकी किडनी (Yoga for healthy kidney) को मजबूत रखने में मदद कर सकता है बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य को हेल्दी बनाए रख सकता है|

जल का सेवन करें 

हमारी किडनी का कार्य होता है कि रक्त से हानिकारक पदार्थों (kidney mein infection) को अलग करके शरीर से बाहर निकलें। किडनी हानिकारक पदार्थों को छान कर यूरीन के रूप में शरीर से बाहर निकालती है। ये मूत्र या यूरीन पानी से मिलकर बना होता है। किडनी अपने कार्य को सुचारु रूप से कर पाए और शरीर से हानिकारक तत्वों को बाहर निकालती रहे इसके लिए जरूरी है कि हम अपने शरीर में पर्याप्त जल के सेवन के स्तर को बनाए रखें। प्रतिदिन डेढ़ से दो लीटर पानी का सेवन अवश्य करना चाहिए। इसी के साथ- साथ हमें अपनी नींद को भी पूरा करना जरूरी है।

आगे पढ़ें: Kidney fail hone ke lakshan | सावधान किडनी खराब होने से पहले आपकी शरीर देती है ये संकेत, बिल्कुल ना करें नजर अंदाज

पेशाब नहीं रोकना चाहिए

हमें पेशाब नहीं रोकना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से मूत्राशय काफी देर तक भरा रहता है और उसे रोकने की वजह से किडनी (kidni rog) को नुकसान पहुंचता है।  इसलिए जब भी आपको पेशाब आये, तुरंत जाना चाहिए।

उचित चीजें खाएं 

डायबिटीज और हाई बीपी के चलते किडनी संबंधी बीमारियां (kidney kharab) होती हैं। इसके लिए अपनी खानपान पर विशेष ध्यान दें। नमक सीमित मात्रा में खाएं। लो कोलेस्ट्रॉल फूड्स का सेवन करें। इनसे ब्लड शुगर और हाई बीपी कंट्रोल में रहता है।

आगे पढ़ें: Reason for pigmentation on face | 1 ही हफ्ते में चेहरे की झाइयां हो जाएगी छूमंतर, आजमाएं ये रामबाण इलाज

दवाइयों के अधिक सेवन से बचें 

अगर आप किसी बीमारी से बचाव के लिए दवा ले रहे हैं, तो उचित मात्रा में ही लें। डॉक्टर के द्वारा लिखित निर्धारित दवाइयां ही लें और उन दवाओं से बचें जिनकी आपको आवश्यकता नहीं है। ज्यादा दवाइयों का सेवन करने से किडनी के स्वास्थ्य पर काफी असर (Kidney ko kaise healthy rakhe) पड़ सकता है। इसी के साथ साथ शरीर में यूरिक एसिड का बैलेंस भी बिगड़ सकता है। इसलिए ये जरूरी है कि हम अपने इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए अच्छी दिनचर्या और खान पान का चुनाव करें बजाय इसके कि हम दवाइयों का अधिक सेवन करें|

बीज वाले पदार्थों का सेवन करने से बचें 

किडनी को स्वस्थ रखने (Kidney ko kaise healthy rakhe) के लिए उन पदार्थों को खाने से बचना चाहिए जिनमें बीज होता है। कोशिश करें कि बीज से भरपूर पदार्थों का सेवन एक नियमित मात्रा में ही करें। किडनी स्टोन या गुर्दे की पथरी की समस्या से बचने के लिए पालक तथा टमाटर के सेवन को कम करें।

आगे पढ़ें: रातों-रात दूर हो जाएगी डार्क अंडर आर्म्स की समस्या, इन घरेलू उपाय से चुटकियों में दूर हो जायेगी आपकी परेशानी

समय-समय पर किडनी की जांच कराएं

किडनी की बीमारी को “साइलेंट किलर” (kidney kharab hone ke sanket) के रूप में जाना जाता है, क्योंकि मरीज लक्षणों के प्रकट होने से पहले किडनी के कार्य का कई प्रतिशत खो सकते हैं।  इससे बचने के लिए आपको किडनी का लगातर चेकअप (Kidni ka ilaj) कराने की जरूरत होती है। अगर आपको किडनी की समस्याएं (Kidney ka upchar) हैं तो आपको इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.