बिहार खबरें

बिहार में बिजली संकट (Bihar power crisis) गहराने के आसार हैं। औरंगाबाद जिले में एनटीपीसी (National Thermal Power Corporation) नवीनगर की एनपीजीसी एवं बीआरबीसीएल (Bharatiya Rail Bijlee Company Limited) बिजली परियोजना में तीन से चार दिन का ही कोयला बचा है। एनटीपीसी प्रबंधन के अनुसार प्रतिदिन कोयले का आना जारी है। अगर कोयले का तीन से चार दिन आना रुक जाए तो दोनों बिजली परियोजना से उत्पादन पर असर पड़ सकता है। बिजली उत्पादन में कमी आने पर बोधगया पावर ग्रिड पर भी असर पड़ेगा। दोनों परियोजना को झारखंड के कोल इंडिया से आपूर्ति की जाती है। एनपीजीसी की हजारीबाग में एक अपनी माइंस है।

Bihar power crisis

बिहार में गहराने लगा बिजली संकट (Bihar power crisis)

एनपीजीसी की दो यूनिट से 1320 एवं बीआरबीसीएल की तीन यूनिट से 750 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है। एनपीजीसी से उत्पादित बिजली का 85 फीसद तथा बीआरबीसीएल से उत्पादित बिजली का 10 फीसद हिस्सा राज्य को मिलता है।

Bihar power crisis

एनपीजीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विजय कुमार सिंह ने बताया कि हमारे प्लांट में प्रतिदिन कोयला आ रहा है, लेकिन ज्यादा स्टाक नहीं है। प्रतिदिन कोयला के आने से बिजली उत्पादन पर अबतक कोई असर नहीं पड़ा है। कोयले की कमी न हो इसके लिए पूरा मैनेजमेंट लगा हुआ है और हर पल इसकी मानीटरिंग की जा रही है।

Bihar power crisis

मालूम हो कि सोमवार को जनता दरबार कार्यक्रम के बाद मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बातचीत में जानकारी दी थी कि बिहार सरकार 90 करोड़ रुपये अधिक की कीमत पर बिजली खरीद रही है। उन्‍होंने जनता से आग्रह किया था कि अफवाहों पर न जाएं। आमजन की जरूरत को पूरा करना ही सरकार का काम है।

आगे पढ़ें: बिजली का बिल कम कैसे करें | How to reduce electricity bill

वे बिजली विभाग के अधिकारियों से स्‍वयं बात कर रहे हैं। उन्‍होंने जनता को आश्‍वस्‍त किया था कि सरकार को चाहे कुछ भी करना पड़े, लेकिन जनता को संकट नहीं होने दिया जाएगा। बिजली की समस्‍या केवल बिहार राज्‍य की नहीं है। यह पूरे देश के लिए परेशानी है।

 

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *