बिहार खबरें

बिहार के सरकारी स्कूलों में 8386 फिजिकल शिक्षकों की बहाली  अब नए साल में ही आएगी। क्योंकि अगले तीन महीने वैधानिक कारणों से राज्य में नई बहाली की किसी प्रक्रिया के आरंभ होने के आसार नहीं है। गौरतलब है कि इसी माह राज्य मंत्रिपरिषद ने राज्य के राजकीयकृत प्रारंभिक विद्यालयों में 8386 शारीरिक शिक्षा सह स्वास्थ्य अनुदेशकों के पदों को स्वीकृति दी थी। मंत्रिमंडल ने प्रारंभिक विद्यालयों में तत्काल एक-एक शारीरिक शिक्षा अनुदेशक बहाल करने पर अपनी मुहर लगाई है। यह बहाली अनुबंध पर होगी और शारीरिक शिक्षा अनुदेशकों को 8000 महीने का नियत वेतन मिलेगा। अलबत्ता 200 सालाना इसमें वृद्धि पर भी स्वीकृति दी गयी है।

बिहार के सरकारी स्कूलों में 8386 फिजिकल शिक्षकों की बहाली

बिहार के सरकारी स्कूलों में 8386 फिजिकल शिक्षकों की बहाली

हालांकि, शिक्षा विभाग लम्बे समय से लंबित चल रही इस बहाली को यथाशीघ्र करने का मन बना चुका था और अभ्यर्थियों की ओर से अलग-अलग फोरम पर उठायी जा रही मांग के मद्देनजर पद सृजन की स्वीकृति कैबिनेट से कराई गई है। लेकिन प्रदेश में फिलहाल गांवों की सरकार के गठन का कार्यक्रम चल रहा है और दिसम्बर मध्य तक चलेगा। तबतक आदर्श चुनाव आचार संहिता जारी रहेगी। शारीरिक शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को लेकर पूछे गये सवाल पर शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी और विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार, दोनों ने ही कहा कि पंचायत चुनाव की प्रक्रिया समाप्त होने के बाद ही नियुक्ति विज्ञापित की जा सकेगी।

बिहार के सरकारी स्कूलों में 8386 फिजिकल शिक्षकों की बहाली

केन्द्र सरकार ने बिहार समेत तमाम राज्यों को सभी मध्य विद्यालयों में आरटीई एक्ट के तहत एक-एक फिजिकल इंस्ट्रक्टर बहाल करने का निर्देश दिया था। राज्य में करीब 29 हजार मध्य विद्यालय हैं। विभाग के निर्देश पर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने 2018 में 16 दिसम्बर को इस पद पर बहाली के लिए परीक्षा ली। 29 हजार पद के लिए कुल 8039 अभ्यर्थियों ने आवेदन दिए और इनमें से करीब 3500 सफल घोषित हुए। तब से ये सफल अभ्यर्थी अपनी नियुक्ति के इंतजार में है।

आगे पढ़ें: Job opportunity in dubai 2021: दुबई में नौकरी करने का सुनहरा मौका, घर बैठे ही एक क्लिक में नौकरी पाएं वो भी बिल्कुल फ्री

विदित हो कि शिक्षा विभाग पहले शारीरिक शिक्षक नियुक्त करता है। नियोजन नियमावली के तहत भी काफी पदों पर नियुक्तयां हुई हैं। मिडिल स्कूल में वेतनमान 5500-20200 तथा ग्रेड पे 2000 जबकि हाईस्कूलों में 5500-20200 के वेतनमान और 2400 इनका ग्रेड पे था। प्लसटू में पढ़ाई होने के बावजूद शारीरिक शिक्षकों के पद नहीं हैं। परंतु शिक्षक नियोजन नियमावली 2012 में शारीरिक शिक्षा अनुदेशक की नियुक्ति का प्रावधान किया गया और इसके लिए अर्हता भी तय कर दिया गया था।

नए मुखिया के हाथ में होगी बहाली की कमान

बिहार की पंचायतों में अभी चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। यह प्रक्रिया दिसंबर महीने तक चलेगी। पंचायत चुनाव के खत्‍म होते ही बहाली की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। नवगठित पंचायत के अंतर्गत नियोजन इकाई के जरिए बहाली प्रक्र‍िया को अंजाम दिया जाएगा। आपको बता दें कि केंद्र सरकार के निर्देश के मुता‍बिक सभी स्‍कूलों में शारीरिक शिक्षक की नियुक्ति की जानी अनिवार्य है। बिहार में शारीरिक शिक्षक के पद की योग्‍यता रखने वाले अभ्‍यर्थी लंबे समय से बहाली के लिए आंदोलन कर रहे हैं।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *