बिहार खबरें

बगहा में साधु ने महिला का सिर काटा । दो बेटियों के सामने कथित साधु ने महिला की धारदार हथियार से गला काटकर हत्या कर दी।  साधु ने गर्दन पर गड़ासे से कई वार किए। इससे महिला की गर्दन, धड़ से अलग हो गयी। मां को बचाने गई एक बेटी पर भी हत्यारे ने हमला करने की कोशिश की। इससे वह जख्मी हो गई। बेटियों ने जब शोर मचाया तब खेतों में काम कर रहे लोग आए। तब तक हत्यारा भाग चुका था।

बगहा में साधु ने महिला का सिर काटा

बगहा में साधु ने महिला का सिर काटा

अपनी आंखों के सामने मां की नृशंस हत्या हुई देख बेटियां दहशत में हैं। जिस महिला की हत्या हुई, वह चौतरवा थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुर गांव निवासी बेचू यादव की 40 वर्षीय पत्नी तारा देवी थी। हत्यारा उसके पड़ोस में रहने वाला एक स्वघोषित साधु मोती लाल यादव (50 वर्ष) है। बेटियों ने पुलिस को बताया है- ‘वह तब तक वार करता रहा, जब तक सर धड़ से अलग नहीं हो गया।’

हत्यारे की तलाश में जुटी पुलिस

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया। बगहा एसडीपीओ कैलाश प्रसाद ने बताया कि हत्या के बाद फरार साधू मोतीलाल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम का गठन कर छापेमारी की जा रही है। अभी तक हत्यारे की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। बगहा SDPO कैलास प्रसाद ने बताया- ‘हत्यारोपी को शीघ्र गिरफ्तार करने का आदेश चौतरवा थाना व नदी थाना के थानाध्यक्षों को दिया गया है। गिरफ्तारी को लेकर पुलिस दियारा क्षेत्रों में लगातार छापेमारी कर रही है।’

बगहा में साधु ने महिला का सिर काटा

बताया जाता है कि मोती लाल ने 25 वर्ष की आयु में खुद को साधु घोषित कर लिया था। बड़े-बड़े बाल और दाढ़ी रखता था। साधु वाले वस्त्र धारण करता था। अब तक शादी नहीं की थी। कभी घर तो कभी किसी आश्रम में रहकर अपनी जिंदगी गुजर-बसर करता था।

गांव वालों के अनुसार, उसको सुबह लोगों ने हाथ में गंड़ासा लिए घूमते देखा था। बगल के गांव रतवल जाकर गंड़ासा पर धार चढ़वाया। वहीं दुकान में चाय पिया और नाश्ता किया। फिर खेतों की ओर चला गया था।

आगे पढ़ें: जैविक खेती की पूरी जानकारी | Organic farming information in hindi

इधर, मृतका अपनी 14 वर्षीय पुत्री पूजा और 12 वर्षीय पुत्री रूपा के साथ दियारा क्षेत्र के मठिया रेता में चारा काटने जा रही थी। इसी दौरान घात लगाए अपराधी ने अचानक हमला बोल दिया। मां को बचाने में पूजा जख्मी हो गई। आरोपित का उग्र रूप देख दोनों बच्चियां डर कर भाग खड़ी हुईं और इसकी जानकारी आस-पास के लोगों को दी। मृतका को तीन पुत्रियां व दो पुत्र हैं। घटना के बाद मृतका के घर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इधर, चौतरवा थानाध्यक्ष शंभु शरण गुप्ता ने बताया कि मृतक के स्वजनों के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।

स्थानीय लोगों में चर्चा, मामला प्रेम-प्रसंग

हत्या किन कारणों से हुई, इसकी गुत्थी अभी सुलझ नहीं पाई है। स्थानीय लोगों में इस बात को लेकर चर्चा है कि यह प्रेम-प्रसंग का मामला है। हत्यारोपी, महिला के ऊपर दबाव बना रहा था। इस दबाव में महिला नहीं आ रही थी। इसे लेकर ही महिला की निर्मम तरीके से हत्या कर दी गई है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.