बिहार खबरें

मुजफ्फरपुर: अगर हम कहें कि बिहार में एक ऐसी मशीन लगी है जिसमें इधर से प्लास्टिक डालो तो उधर से पेट्रोल निकलेगा… हो सकता है कि आपको ये मजाक लगे लेकिन मुजफ्फरपुर में ये कमाल होना शुरू हो गया है। बड़ी बात ये कि सिर्फ 6 रुपये के प्लास्टिक कचरे से 79 रुपये की कीमत का डीजल-पेट्रोल बन रहा है। जिले के कुढ़नी के खरौना में प्लास्टिक कचरे से फ्यूल यानि पेट्रोल-डीजल बनाने वाली यूनिट का उद्घाटन बिहार राजस्व व भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय ने मंगलवार को कर दिया। देश में ये ऐसा पहला प्लांट है जहां प्लास्टिक से पेट्रोलियम प्रोडक्ट बनाए जा रहे हैं।

मुजफ्फरपुर में प्लास्टिक से बन रहा पेट्रोल

मुजफ्फरपुर में प्लास्टिक से बन रहा पेट्रोल

बताया जा रहा है कि इस प्लांट से प्रतिदिन 150 लीटर डीजल या 130 लीटर पेट्रोल हर रोज तैयार किया जाएगा। इसके लिए 200 किलों कचड़े की खपत होगी। बताया जा रहा है कि पेट्रोल डीजल बनाने की प्रकिया में सबसे पहले कचरे को ब्यूटेन में बदला जाता है। इसके बाद ब्यूटेन को आइसो ऑक्टेन में बदला जाता है। फिर मशीन से अलग-अलग दबाव और तापमान से आइसो ऑक्टेन को डीजल या पेट्रोल में बदल दिया जाता है। यहां 400 डिग्री सेल्सियस तापमान पर डीजल और 800 डिग्री सेल्सियस तापमान पर पेट्रोल बनाया जा सकेगा।

मुजफ्फरपुर में प्लास्टिक से बन रहा पेट्रोल

आमलोगों में इस प्रोडक्ट को लेकर भरोसा बढ़े इसके लिए मंत्री ने प्लांट में तैयार दस लीटर डीजल भी खरीद लिया। इस दौरान इकाई को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ उमड़ी। प्लास्टिक कचरा से डीजल-पेट्रोल बनाने की विधि जानने के लिए के लिए लोगों में उत्सुकता रही।

देहरादून में हुआ रिसर्च

कचरे से पेट्रोल डीजल निकालने की प्रकिया पर सफल रिसर्च देहरादून के इंडियन इंस्चयूट ऑफ पेट्रोलियम की ओर से किया जा चुका है। यहां हुए रिसर्च में येबात सामने आई थी कि डीजल और पेट्रोल में अधिक ऑक्टन वैल्यू होने से इसका माइलेज अधिक पाया गया है। कचड़ा से डीजल पेट्रोल निकालने की पूरी प्रक्रिया में करीब आठ घंटे का समय लगता है। मुजफ्फरपुर के इस प्लाट में 6 रुपए प्रति किलो पर नगर निगम कचरा अपलब्ध कराएगा।

आगे पढ़ें: बिहार के गोपालगंज में जहरीली शराब पीने से पांच की मौत, कई बीमार

मंत्री रामसूरत राय ने किया प्लांट का उद्घाटन

इस प्लांट पर लोगों का भरोसा बिल्डप हो इसलिए उद्घाटन करने पहुंचे बिहार सरकार के मंत्री रामसूरत राय ने 10 लीटर डीजल यहां खरीदा। उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रयोग को सपोर्ट करने की जरूरत। अगर यह बड़े स्तर पर कामयाब होता है, तो लोगों को कम कीमत पर पेट्रोल डीजल उपलब्ध हो सकेगा। तो वहीं मुजफ्फरपुर में तेल बनाने वाली इस प्लांट की चर्चा खूब हो रही है। लोग बड़ी संख्या में इसे देखने पहुंच रहे है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.