बिहार खबरें

पटना: पटना शहर की हवा देश के कई प्रदूषित शहरों से ज्यादा खराब हो गई है। यह बीमार लोगों के साथ सामान्य लोगों की सेहत के लिए भी खतरा है। दिवाली के दिन से एयर क्वालिटी इंडेक्स अधिक खराब हुआ है। हालात ऐसे हो गए हैं कि लोगों को सांस लेने तक में परेशानी हो रही है। दरअसल शनिवार को दीपावली के आयोजन पर बिहार में लोगों ने जमकर आतिशबाजी की और पटाखे जलाएं।

आइए जानते है एयर क्वालिटी इंडेक्स के बारे

आसान भाषा में कहें तो एयर क्वालिटी इंडेक्स का मकसद वायु प्रदूषण के सूचकांक को संख्या में बदलकर लोगों को बताया है। लोगों को समझाना है कि इसका मानक किया है, और उससे अधिक हो जाने पर सेहत पर क्या प्रभाव पड़ेगा। एयर क्वालिटी इंडेक्स हमें यह बताते हैं कि जिस हवा में हम जीवन जी रहे हैं उसमें कितनी शुद्धता है।

राहत की बात यह है कि दीपावली के दिन से जिस तरह दमघोंटू हवा बनी हुई थी। उससे लोगों को सांस लेने में परेशानी के साथ आंखों में भी जलन की शिकायत बढ़ गई थी, औंसत एयर क्वालिटी इंडेक्स भी बेहद गंभीर श्रेणी में बना हुआ था।

मॉर्निंग वॉक करने वाले लोग भी बता रहे थे, कि उन्हें आम दिनों की अपेक्षा आज सांस लेने में कठिनाई हो रही है। मालूम हो कि देश की राजधानी दिल्ली का भी वायु प्रदूषण का स्तर गंभीर श्रेणी में 414 तक पहुंच गया। दिल्ली को लेकर ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं, कि बुधवार को दोपहर बाद हल्की बारिश हो सकती है। जिस कारण हालात थोड़े सुधारने का अनुमान हैं।

कोरोना में प्रदूषण वरना खतरनाक

कोरोना काल में प्रदूषण का स्तर बढ़ना ठीक नहीं माना जाता है। कई शहरों में प्रदूषण का स्तर बढ़ने के साथ कोरोना का संक्रमण भी बड़ा है। डॉक्टरों का कहना है कि प्रदूषण के कारण लोगों को कोरोना के साथ साथ कई तरह की समस्याएं हो सकती है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *