बिहार खबरें

बिहार: भाई-बहन के असीम प्यार का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन में अब कुछ ही दिन शेष रह गए हैं। बाजार, रंग-बिरंगी आकर्षक राखियों से सज चुका है। भाई-बहन के स्नेह को समर्पित इस त्योहार का बहनें बड़ी बेसब्री से इंतजार करती है। हमेशा कोशिश करती है कि किसी भी हालत में भाई की कलाई सूनी नहीं रहे। इसके लिए कभी वह लंबा फासला तय करती हैं, भारतीय डाक विभाग ने बहनों को दिया सौगात बहन अपने प्यार और आशीर्वाद को लिफाफे में बंद कर राखी को डाक के द्वारा अपने भाई के पास पहुंचाती हैं।

भारतीय डाक विभाग ने बहनों को दिया सौगात

बहनों ने राखी खरीद कर दूर-दराज रह रहे अपने भाइयों को भेजना भी शुरू कर दिया। ऐसे में भारतीय डाक विभाग ने बहनों को इस बार फिर बड़ी सौगात दी है।राखी के लिए स्पेशल प्लास्टिक लेमिनेटेड लिफाफा दरअसल अब मात्र 15 रुपये में साधारण डाक से कोई भी बहन देश के किसी भी कोने में राखी भेज सकती है।

भारतीय डाक विभाग ने बहनों को दिया सौगात

इसके लिए डाक विभाग द्वारा राखी भेजने के लिए रक्षाबंधन स्पेशल प्लास्टिक लेमिनेटेड लिफाफा की बिक्री शुरू की गई है। अब रास्ते में राखियां खराब नहीं होंगी। ये लिफाफा सभी डाकघरों में मात्र दस रुपया में रक्षाबंधन स्पेशल लिफाफा के रूप में उपलब्ध है। उस विशेष लिफाफा पर पांच रुपए का साधारण डाक टिकट लगाकर 20 ग्राम तक की राखी कहीं भी भेजी जा सकती है।

भारतीय डाक विभाग ने बहनों को दिया सौगात

राखी खराब होने की आती थी शिकायत दरअसल अक्सर रक्षा बंधन पर दूर-दराज में रहने वाले भाईयों को बहनों द्वारा डाक से राखी भेजी जाती है। इस दौरान जानकारी मिलती थी कि कई बार काफी महंगी राखी साधारण लिफाफा होने के कारण रास्ते में ही खराब हो जाती है, इसको लेकर काफी शिकायतें विभाग के पास आ रही थी। जिसके बाद ही डाक विभाग ने विशेष प्रकार के लिफाफों का प्रयोग करने का फैसला लिया और विभाग की ओर से पहली बार प्लास्टिक कोटेड स्पेशल प्रिटेड लिफाफों का प्रचलन शुरू किया गया है।

भारतीय डाक विभाग ने बहनों को दिया सौगात

गया प्रमंडल के प्रवर डाक अधीक्षक रंजय कुमार सिंह ने बताया कि पिछले वर्ष से कोरोना महामारी ने सभी प्राचीन, पारंपरिक और ऐतिहासिक परंपराओं को तोड़कर रख दिया है। ऐसे मुश्किल हालात में बहन की राखी भाई तक पहुंचाने वाले डाकघर की जिम्मेदारी काफी बढ़ गई है। समय की नजाकत को समझते हुए डाक विभाग ने रक्षाबंधन की सौगात देते हुए स्पेशल तैयारी की है।

आगे पढ़ें: बिहार के सीवान में बाइक सवारों ने फिल्मी स्टाइल में की अंधाधुंध फायरिंग, रास्ते में जो भी मिला उसे मार दी गोली, क्या है पुरा मामला

उन्होंने बताया कि प्लास्टिक कोटेड इस लिफाफे के ऊपर ”राखी एनवलप” लिखा गया है। कहीं भी इसे चेक नहीं किया जाएगा। समय पर तयशुदा जगह पर पहुंचाया जाएगा। राखी को समय पर पहुंचाने के लिए केन्द्र सरकार ने यह व्यवस्था की है। यदि बुकिग ज्यादा होती है, तो स्पेशल बैग बनाकर भेजने की भी व्यवस्था की गई है। अभी प्रधान डाकघर में यह लिफाफा उपलब्ध है, जहां से प्रत्येक डाकघरों में जल्दी उपलब्ध करा दिया जाएगा।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.