बिहार खबरें

Hindu calendar 2022 | हिन्दू कैलेंडर के महीनों के नाम, महत्व, त्योहार सूची लिस्ट 2022:  यदि आप किसी से पूछें या कोई आपसे पूछे कि अभी कौन-सा महीना चल रहा है तो जवाब यही मिलेगा- जनवरी। इसमें कोई खास बड़ी बात भी नहीं है, ये तो हम सभी जानते हैं कि अभी जनवरी महीना चल रहा है। लेकिन जनवरी, अंग्रेजी कैलेंडर (English Clender 2022) का महीना है। इस बात में कोई दो राय नहीं है कि ऐसे लोगों की भरमार है, जो अंग्रेजी नहीं जानते हैं लेकिन अगर उनसे महीने का नाम पूछें तो वे अंग्रेजी कैलेंडर (Hindu calendar 2022) के महीनों का ही नाम बताते हैं। हिंदू नव वर्ष (Hindu New Year 2022) बहुत प्राचीन काल से चलता आ रहा है, लेकिन कहा जाता है कि करीब 2057 ईसा पूर्व विश्व सम्राट विक्रमादित्य ने नए सिरे से इसे स्थापित किया, जिसे विक्रम संवत कहा जाता है। इस विक्रम संवत को पूर्व में भारतीय (indian calendar 2022) संवत का कैलेंडर (Thakur prasad clender) भी कहा जाता था, लेकिन बाद में इसे हिंदू संवत का कैलेंडर (Clender in hindi 2022) के रूप में प्रचारित किया गया। इस हिंदू नव वर्ष को हर प्रदेश में अलग-अलग नाम से जाना जाता है। गुड़ी पड़वा, होला मोहल्ला, युगादि, विशु, वैशाखी, कश्मीरी नवरेह, उगाड़ी, चेटीचंड ,चित्रैय,तिरूविजा, इन सभी की तिथि संवत्सर के आसपास ही पड़ती है। हालांकि मूल रूप से इसे नव संवत्सर और विक्रम संवत कहा (February 2022 telugu calendar)जाता है।

Hindu calendar 2022 | हिन्दू कैलेंडर के महीनों के नाम, महत्व, त्योहार सूची लिस्ट 2022

Hindu calendar 2022 | indian calendar 2022

जनवरी 2022 के व्रत-त्यौहार

01 शनिवार : मासिक शिवरात्रि
02 रविवार : पौष अमावस्या
13 गुरुवार : पौष पुत्रदा एकादशी
14 शुक्रवार : पोंगल, उत्तरायण, मकर संक्रांति
15 शनिवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
17 सोमवार : पौष पूर्णिमा व्रत
21 शुक्रवार : संकष्टी चतुर्थी
28 शुक्रवार : षटतिला एकादशी
30 रविवार : मासिक शिवरात्रि

फरवरी 2022 के व्रत-त्यौहार

01 मंगलवार : माघ अमावस्या
05 शनिवार : बसंत पंचमी, सरस्वती पूजा
12 शनिवार : जया एकादशी
13 रविवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल), कुम्भ संक्रांति
16 बुधवार : माघ पूर्णिमा व्रत
20 रविवार : संकष्टी चतुर्थी
27 रविवार : विजया एकादशी
28 सोमवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)

मार्च 2022 के व्रत-त्यौहार

01 मंगलवार : महाशिवरात्रि, मासिक शिवरात्रि
02 बुधवार : फाल्गुन अमावस्या
14 सोमवार : आमलकी एकादशी
15 मंगलवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल), मीन संक्रांति
17 गुरुवार : होलिका दहन
18 शुक्रवार : होली, फाल्गुन पूर्णिमा व्रत
21 सोमवार : संकष्टी चतुर्थी
28 सोमवार : पापमोचिनी एकादशी
29 मंगलवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
30 बुधवार : मासिक शिवरात्रि

अप्रैल 2022 के व्रत-त्यौहार

01 शुक्रवार : चैत्र अमावस्या
02 शनिवार : चैत्र नवरात्रि, उगाडी, घटस्थापना, गुड़ी पड़वा (हिंदू नवसंवत्सर 2079 प्रारंभ)
03 रविवार : चेटी चंड
10 रविवार : राम नवमी
11 सोमवार : चैत्र नवरात्रि पारणा
12 मंगलवार : कामदा एकादशी
14 गुरुवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल), मेष संक्रांति
16 शनिवार : हनुमान जयंती, चैत्र पूर्णिमा व्रत
19 मंगलवार : संकष्टी चतुर्थी
26 मंगलवार : वरुथिनी एकादशी
28 गुरुवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
29 शुक्रवार : मासिक शिवरात्रि
30 शनिवार : वैशाख अमावस्या

मई 2022 के व्रत-त्यौहार

03 मंगलवार : अक्षय तृतीया
12 गुरुवार : मोहिनी एकादशी
13 शुक्रवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
15 रविवार : वृषभ संक्रांति
16 सोमवार : वैशाख पूर्णिमा व्रत
19 गुरुवार : संकष्टी चतुर्थी
26 गुरुवार : अपरा एकादशी
27 शुक्रवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
28 शनिवार : मासिक शिवरात्रि
30 सोमवार : ज्येष्ठ अमावस्या

जून 2022 के व्रत-त्यौहार

11 शनिवार : निर्जला एकादशी
12 रविवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
14 मंगलवार : ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत
15 बुधवार : मिथुन संक्रांति
17 शुक्रवार : संकष्टी चतुर्थी
24 शुक्रवार : योगिनी एकादशी
26 रविवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
27 सोमवार : मासिक शिवरात्रि
29 बुधवार : आषाढ़ अमावस्या

जुलाई 2022 के व्रत-त्यौहार

01 शुक्रवार : जगन्नाथ रथ यात्रा
10 रविवार : देवशयनी एकादशी, अषाढ़ी एकादशी
11 सोमवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
13 बुधवार : गुरु-पूर्णिमा, आषाढ़ पूर्णिमा व्रत
16 शनिवार : संकष्टी चतुर्थी, कर्क संक्रांति
24 रविवार : कामिका एकादशी
25 सोमवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
26 मंगलवार : मासिक शिवरात्रि
28 गुरुवार : श्रावण अमावस्या
31 रविवार : हरियाली तीज

अगस्त 2022 के व्रत-त्यौहार

02 मंगलवार : नाग पंचमी
08 सोमवार : श्रावण पुत्रदा एकादशी
9 मंगलवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
11 गुरुवार : रक्षा बंधन
12 शुक्रवार : श्रावण पूर्णिमा व्रत
14 रविवार : कजरी तीज
15 सोमवार : संकष्टी चतुर्थी
17 बुधवार : सिंह संक्रांति
19 शुक्रवार : जन्माष्टमी
23 मंगलवार : अजा एकादशी
24 बुधवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
25 गुरुवार : मासिक शिवरात्रि
27 शनिवार : भाद्रपद अमावस्या
30 मंगलवार : हरतालिका तीज
31 बुधवार : गणेश चतुर्थी

सितंबर 2022 के व्रत-त्यौहार

06 मंगलवार : परिवर्तिनी एकादशी
08 गुरुवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल), ओणम/थिरुवोणम
09 शुक्रवार : अनंत चतुर्दशी
10 शनिवार : भाद्रपद पूर्णिमा व्रत
13 मंगलवार : संकष्टी चतुर्थी
17 शनिवार : कन्या संक्रांति
21 बुधवार : इन्दिरा एकादशी
23 शुक्रवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
24 शनिवार : मासिक शिवरात्रि
25 रविवार : अश्विन अमावस्या
26 सोमवार : शरद नवरात्रि, घटस्थापना

अक्टूबर 2022 के व्रत-त्यौहार

01 शनिवार : कल्परम्भ
02 रविवार : नवपत्रिका पूजा
03 सोमवार : दुर्गा महाअष्टमी पूजा
04 मंगलवार : दुर्गा महा नवमी पूजा, शरद नवरात्रि पारणा
05 बुधवार : दुर्गा विसर्जन, दशहरा
06 गुरुवार : पापांकुशा एकादशी
07 शुक्रवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
09 रविवार : अश्विन पूर्णिमा व्रत
13 गुरुवार : संकष्टी चतुर्थी, करवा चौथ
17 सोमवार : तुला संक्रांति
21 शुक्रवार : रमा एकादशी
22 शनिवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
23 रविवार : मासिक शिवरात्रि, धनतेरस
24 सोमवार : दिवाली, नरक चतुर्दशी
25 मंगलवार : कार्तिक अमावस्या
26 बुधवार : भाई दूज, गोवर्धन पूजा
30 रविवार : छठ पूजा

नवंबर 2022 के व्रत-त्यौहार

04 शुक्रवार : देवुत्थान एकादशी
05 शनिवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
08 मंगलवार : कार्तिक पूर्णिमा व्रत
12 शनिवार : संकष्टी चतुर्थी
16 बुधवार : वृश्चिक संक्रांति
20 रविवार : उत्पन्ना एकादशी
21 सोमवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण)
22 मंगलवार : मासिक शिवरात्रि
23 बुधवार : मार्गशीर्ष अमावस्या

दिसंबर 2022 के व्रत-त्यौहार

03 शनिवार : मोक्षदा एकादशी
05 सोमवार : प्रदोष व्रत (शुक्ल)
08 गुरुवार : मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत
11 रविवार : संकष्टी चतुर्थी
16 शुक्रवार : धनु संक्रांति
19 सोमवार : सफला एकादशी
21 बुधवार : प्रदोष व्रत (कृष्ण), मासिक शिवरात्रि
23 शुक्रवार : पौष अमावस्या

Hindu calendar 2022 | हिन्दू कैलेंडर के महीनों के नाम, महत्व, त्योहार सूची लिस्ट 2022

हिंदी कैलेंडर में भी 12 महीने ही होते हैं. हिंदी कैलेंडर (Hindu Calendar 2022) की शुरुआत चैत्र महीने से होती है और इसका अंत फाल्गुन महीने के साथ होता है. हिंदी कैलेंडर Hindu festival calendar 2022) में आने वाले महीनों के नाम इस प्रकार हैं- चैत्र, बैसाखी, ज्येष्ठ, आषाढ़, श्रावण, भाद्रपद, अश्विन, कार्तिक, मार्गशीर्ष, पौष, माघ और फाल्गुन. आइए, अब जानते हैं अंग्रेजी कैलेंडर के हिसाब से हिंदी कैलेंडर के महीने किस समय आते हैं।

चैत्र 

हिंदी कैलेंडर की शुरुआत (2022 panchang) चैत्र के महीने के साथ होती है। अंग्रेजी कैलेंडर  के हिसाब से ये मार्च (March 2022 hindu calendar) के मध्य में शुरू होता है और अप्रैल के मध्य में खत्म हो जाता है। चैत्र माह में surya dev सूर्यदेव, भगवान राम और हनुमानजी की पूजा के साथ ही माता दुर्गा की पूजा की जाती है। इसी माह में चैत्र नवरात्रि का व्रत भी रखा जाता है। चैत्र महीने के 15 दिन पहले फाल्गुन में होली का त्यौहार मनाते है। चैत्र महीने के पहले दिन महाराष्ट्र में गुड़ी पड़वा का त्यौहार, तमिलनाडु में चैत्री विशु और कर्नाटका एवं आंध्रप्रदेश में उगडी (Telugu calendar 2022 march) का त्यौहार मनाया जाता है।

वैशाख

बैसाखी, हिंदी कैलेंडर (calendar 2022 hindu panchang) का दूसरा महीना होता है जो अप्रैल के मध्य में शुरू होता है और मई के मध्य में खत्म हो जाता है। लेकिन नेपाली, पंजाबी एवं बंगाली कैलेंडर का ये पहला महिना होता है। ये माह अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार अप्रैल-मई महीने (May 2022 telugu calendar) में आता है। वैशाख माह में Bhagwan narsingh भगवान नृसिंह, भगवान परशुराम, मां गंगा, चित्रगुप्त, भगवान कूर्म की पूजा भी की जाती है। वहीं माना जाता है कि इसी माह के शुक्ल पक्ष की नवमी को श्री सीताजी ने जन्म लिया था।

आगे पढ़े: Gudhal Ke Phool Ke Fayde | गुड़हल के फूलों से पाएं अनेक रोगों से छुटकारा, जाने कैसे

ज्येष्ठ मास 

हिंदी कैलेंडर (2022 ka hindu calendar) का तीसरा महीना ज्येष्ठ होता है। ये बहुत गर्म होता है। जिसकी शुरुआत मई के मध्य में होती है और जून (June 2022 hindu calendar) के मध्य में इसका समापन हो जाता है। इस महीने की दोपहर को लोग जेठ की दोपहरी कहते है। इसे तमिल भाषा में अणि मास कहा जाता हैं। इसी महीने में जल देवता की पूजा की जाती हैं और जल बचाने को महत्व दिया जाता है और इसी को लेकर दो त्योंहार मनाये जाते है। पहला गंगा दशहरा और दूसरा निर्जला एकादशी।  इसी महीने में भगवान हनुमानजी और भगवान राम का मिलन होता हैं। इसी महीने में भगवान राम जी के साथ हनुमानजी की पूजा करना शुभ माना जाता है।

आषाढ़

आषाढ़, हिंदी कैलेंडर का चौथा महीना है। ये अंग्रेजी कैलेंडर के हिसाब से मध्य जून से मध्य जुलाई तक रहता है। तमिल में इस महीने को आदि कहते है। अषाढ़ महीने की पूर्णिमा के दिन गुरु पूर्णिमा मनाते है। इसी महीने देव शयनी एकादशी भी आती है। तमिलनाडु में आदि अमावस्या का विशेष महत्व है।

श्रावण

हिंदी कैलेंडर का 5वां महीना श्रावण है। हिंदू धर्म में इस महीने को बहुत पवित्र माना जाता है। भगवान शिव के प्रिय श्रावण मास के साथ ही त्योहारों का सिलसिला शुरू हो जाता है। ये मध्य जुलाई में शुरू होता है और मध्य अगस्त तक चलता है। इसमें Lord shiv भगवान शिव की पूजा का महत्व है। यह भगवान शिव का माह माना जाता है।

भाद्रपद

भाद्रपद को भादो के नाम से भी जाना जाता है। ये हिंदी कैलेंडर का 6ठां महीना होता है। इस महीने में तीज, गणेश चतुर्थी जैसे कई प्रमुख त्योहार आते हैं। ये मध्य अगस्त (August 2022 hindu calendar) में शुरू होता है और मध्य सितंबर तक चलता है। मान्यता के अनुसार इसी माह कृष्ण पक्ष की अष्टमी को भगवान कृष्ण का जन्म हुआ था। इस माह गणेशजी और श्रीकृष्ण की पूजा की जाती है। वहीं इसी माह में श्रीराधा की पूजा भी होती है क्योंकि भाद्रपद में ही उन्होंने भी जन्म लिया था।

आश्विन

हिंदू कैलेंडर के सातवें माह यानि आश्विन माह देवी और शक्ति की उपासना का माह माना जाता है। एक ओर जहां इस माह में शारदीय नवरात्रि के व्रत रखे जाते हैं। वहीं इसी माह में श्राद्ध पक्ष रहने के कारण पितृदेव की पूजा भी होती है। ध्यान रहे भाद्रपद की पूर्णिमा से ही श्राद्धपक्ष प्रारंभ हो जाता है। अश्विन का महीना मध्य सिंतबर में शुरू होता है और मध्य अक्टूबर तक चलता है। हिंदी कैलेंडर के अश्विन महीने में ही नवरात्रि, दशहरा और दीपावली के पर्व मनाए जाते हैं।

आगे पढ़े: हस्तरेखा का संपूर्ण ज्ञान | Hast Rekha Gyan in hindi

कार्तिक

हिंदी कैलेंडर (2022 panchang in hindi) का 8वें महीने का नाम कार्तिक है। हिंदू धर्म में कार्तिक मास का काफी महत्व है। कार्तिक माह देवी लक्ष्मी और भगवान विष्णु को समर्पित माना गया है। इसी माह भगवान विष्णु के योग निद्रा से जागने का समय होने के साथ ही इसी माह में दीपवाली के दिन महालक्ष्मी की पूजा होती है। वहीं इस दौरान कुछ राज्यों में इस दौरान माता कालिका की भी पूजा होती है। इस माह में धनवंतरि देव, कुबेर, यमदेव, चित्रगुप्त, श्रीकृष्ण आदि की पूजा भी की जाती है। कार्तिक मास मध्य अक्टूबर में प्रारंभ होता है और मध्य नवंबर तक चलता है। इस पवित्र महीने में पवित्र स्नान का भी बहुत महत्व है।

मार्गशीर्ष

हिंदू कैलेंडर के नौवें माह यानि मार्गशीर्ष माह में गीता जयंती होती है। इस माह में श्रीकृष्ण, भगवान दत्तात्रेय, सत्यनारायण भगवान की पूजा, पितृदेव की पूजा, भैरव पूजा आदि की जाती है। मार्गशीर्ष मास को अगहन के नाम से भी जाना जाता है। मार्गशीर्ष मास की शुरुआत मध्य नवंबर में होती है और ये मध्य दिसंबर तक चलता है।

पौष

हिंदी कैलेंडर का 10वां महीना पौष के नाम से जाना जाता है। इसे पूस भी कहते हैं। पौष या पूस मास की शुरुआत मध्य दिसंबर में होती है और ये मध्य जनवरी (January 2022 panchang) तक चलता है। पौष मास में भगवान विष्णु और सूर्य की उपासना का विशेष महत्व माना जाता है।

माघ

भगवान श्रीहरि विष्णु के साथ ही सूर्यदेव की पूजा माघ माह में होती है। मान्यता है कि इस माह में भगवान माधव की पूजा करने से उपासक को राजसूय यज्ञ का फल प्राप्त होता है। इस माह में गुप्त नवरात्रि होती है, माता दुर्गा के 10 महारुपों अर्थात दस महाविद्याओं की पूजा की जाती है। इस महीने ही बसंत पंचमी (Panchang january 2022) और महाशिवरात्रि जैसे पर्व मनाए जाते हैं।

फाल्गुन

हिंदू कैलेंडर(Hindu calendar february 2022) के आखिरी यानि 12वें माह फाल्गुन में प्रहलाद और नृसिंह भगवान की पूजा के साथ ही शिवजी और कामदेकी की भी पूजा की जाती है। इसी माह में माता सीता की पूजा भी होती है क्योंकि एक अन्य मान्यता अनुसार इसी माह की अष्टमी तिथि में उनका जन्म हुआ था। इस माह में महाशिवरात्रि (Maha shivaratri 2022 tamil calendar) रहने के अलावा श्रीराधा और कृष्ण की पूजा भी होती है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.