बिहार खबरें

मोतिहारी: मदर टेरेसा फ्यूचर फाउंडेशन ट्रस्ट बनाकर उत्तर बिहार के पांच जिलों की महिलाओं से करीब 125 करोड़ रुपये की ठगी (Fraud of 125 crores by creating fake trust) करने वाले निर्भय कुमार यादव और उसके सहयोगी पंकज कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। निर्भय मधुबन थाने के लाही बंजरिया और पंकज पिपरा चकबारा गांव का निवासी है। दोनों की गिरफ्तारी रविवार शाम चकिया बनझुला के पास से हुई है। वे नेपाल भागने की तैयारी में थे।

Fraud of 125 crores by creating fake trust

Fraud of 125 crores by creating fake trust बिहार के छह जिलों की महिलाएं हुईं शिकार

एसपी नवीनचंद्र झा ने सोमवार को पत्रकारों को बताया कि अब तक की जांच में 11.5 करोड़ की ठगी का हिसाब-किताब मिला है। ठगी की राशि 125 करोड़ से अधिक हो सकती है। इसका नेटवर्क पूर्वी चंपारण से लेकर मुजफ्फरपुर, बेतिया, शिवहर, सीतामढ़ी व वैशाली तक फैला था। निर्भय अपने सहयोगियों के साथ ट्रस्ट बनाकर महिलाओं को प्राइवेट फाइनेंस कंपनी से लोन दिलवाता था।

Fraud of 125 crores by creating fake trust

अधिक ब्याज देने का झांसा देकर महिलाओं को दिलाये गये लोन की राशि को अपने ट्रस्ट में जमा करवाता था। हर महिला से 22,500 रुपये ट्रस्ट में जमा करवाकर उन्हें एक साल तक 2500 रुपये देने को कहा था, लेकिन महिलाओं को जब समय पर राशि नहीं मिली, तो सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने निर्भय के मधुबन लाही बंजरिया स्थित आवास का घेराव किया, तब जाकर ठगी का मामला उजागर हुआ।

आगे पढ़ें: अररिया पुलिस ने किया आज ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ जो बच्चों को बंधक बनाकर किया करता था लूटपाट

इस मामले में मधुबन व चकिया थाने में दो प्राथमिकियां दर्ज की गयी हैं। इनमें निर्भय के अलावा मधुबन बंजरिया की मीना देवी, दीपक कुमार व रौशन कुमार को आरोपित किया था। छापेमारी में पकड़ीदयाल डीएसपी सुनील कुमार, प्रशिक्षु डीएसपी विनीता सिन्हा के अलावे मधुबन के दारोगा राजेश कुमार, जमादार विनोद कुमार, टेक्निकल सेल के प्रभारी मनीष कुमार, सिपाही मुन्ना कुमार, नित्यानंद दूबे व मुन्ना कुमार शामिल थे।

निर्भय के पास कई कागजात बरामद

निर्भय के पास से उसके नाम का पैनकार्ड, आधार कार्ड, वोटर कार्ड, जमीन का दस्तावेज, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की ओर से जारी प्रमाणपत्र, मध्यमा का अंक प्रमाणपत्र व सर्टिफिकेट, मेसर्स दीप इंटरप्राइजेज के खाते से लेनदेन की विवरणी व मीना देवी के केनरा बैंक की चेकबुक बरामद हुई है।

आगे पढ़ें: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता दरबार में लाेगों की समस्‍याओं पर तत्काल कार्रवाई करने का दिया आदेश, आइए जानते हैं जनता दरबार में कैसे हो शामिल

एसपी ने बताया कि आर्थिक अपराध इकाई को अनुसंधान में सहयोग करने के लिए लिखा गया है। निर्भय की चल व अचल संपत्ति की जांच की जायेगी। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, केनरा व एक्सिस बैंक से ट्रस्ट के पैसों का लेनदेन हुआ है. तीनों बैंकों के अधिकारियों से लेनदेन की विवरणी मांगी गयी है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *