बिहार खबरें

Advantage and Disadvantage of Using Multiple Credit Cards 2021 :  क्रेडिट कार्ड के फायदे गिनाने वाले तो आपको बहुत से लोग मिल जाएंगे, लेकिन नुकसान के बारे में बहुत ही कम लोग बताते हैं। अक्सर कुछ एजेंट भी आपको फोन करते हैं और कहते हैं एक और कार्ड ले लीजिए इसके बहुत फायदे हैं। ऐसे में बहुत से लोग तो एक ऑनलाइन शॉपिंग (Online Shopping) वाउचर या फिर एक मूवी  टिकट के लालच में ही कई क्रेडिट कार्ड ले लेते हैं। ऐसे में सवाल ये उठता है कि एक से अधिक क्रेडिट कार्ड रखना फायदे का सौदा (Advantage of Multiple credit cards) है या फिर घाटे (Disadvantage of Multiple credit cards) का। लेकिन कार्ड लेने वाले अगर कार्ड पर निरंतर निगाह नहीं रखते तो, वे निश्चित रूप से कर्ज के जाल में फंस जाएंगे। एक्सपर्ट कहते हैं कि अगर कई कार्ड हैं तो इनका इस्तेमाल सही (How to use multiple credit cards) ढंग से करना जरूरी है।

Advantage and Disadvantage of Using Multiple Credit Cards 2021

सेबी रजिस्‍टर्ड इन्‍वेस्‍टमेंट एडवाइर जितेंद्र सोलंकी ने कहा, किसी व्यक्ति को बहुत ज्यादा क्रेडिट कार्ड नहीं रखना चाहिए। उन्होंने कहा, यह जरूरी है कि व्यक्ति के पास सही कार्ड हो और वे उसका सही इस्तेमाल (Advantage and Disadvantage of Using Multiple Credit Cards) करे। ऐसे कार्ड का चुनाव करें जिससे ज्यादा रिवॉर्ड पॉइंट या कोई ऑफर मिले।

Advantage and Disadvantage of Using Multiple Credit Cards 2021

अगर किसी के पास कई कार्ड हैं, तो यह ठीक है, लेकिन अगर इन कार्ड का पेमेंट सही समय पर नहीं होता तो इससे क्रेडिट स्कोर प्रभावित होगा। बिल का पेमेंट करने के लिए प्रत्येक कार्ड की नियत तारीख पर या फोन पर मंथली रिमाइंडर रखकर क्रेडिट कार्ड पर लेट फीस से बचा जा सकता है। सोलंकी ने कहा, अगर यूजर अपने खर्चों और रीपेमेंट की योजना बनाते हैं तो कार्डों की संख्या कोई मायने नहीं रखती है। यूजर को इसका उपयोग करके खर्च की गई राशि को चुकाने में सक्षम होना चाहिए।

आगे पढ़ें: RBI ने इन 14 बैंकों पर लगाया 14.5 करोड़ रुपये का जुर्माना, नियमों का कर रहे थे उल्लंघन

क्रेडिट कार्ड का कम करें इस्तेमाल

जितेंद्र सोलंकी कहते हैं, क्रेडिट कार्ड का कम इस्तेमाल हो तो ज्यादा अच्छा है, इसके इस्तेमाल का अनुपात बनाए रखना जरूरी है। सोलंकी कहते हैं, यूजर को एक बार में 30-40 फीसद से अधिक क्रेडिट सीमा का उपयोग (Advantage and Disadvantage of Using Multiple Credit Cards) नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा, एक यूजर के पास 5 अलग-अलग कार्ड हो सकते हैं, लेकिन अगर उनका इस्तेमाल 20-30 फीसद किया जाए तो अच्छा है।

Advantage and Disadvantage of Using Multiple Credit Cards 2021

अगर कार्ड का इस्तेमाल 80 फीसद से 90 फीसद होता है, तो यह दिखाता है कि यूजर बहुत ज्यादा लोन का भूखा है। तो, कार्ड की संख्या कितनी है यह मायने नहीं रखता, बल्कि इसका उपयोग कितना करना है ये मायने रखता है। जितेंद्र सोलंकी कहते हैं, यूजर को अपने सबसे पुराने कार्ड को अपने पास रखना चाहिए, क्योंकि उनका क्रेडिट हिस्ट्री बहुत लंबा है।

आगे पढ़ें: RD highest interest rate 2021: रेकरिंग डिपॉजिट स्कीम में करना है निवेश तो ये बैंक दे रहा हैं 7.5% तक का शानदार इंट्रेस्ट रेट, चेक करें डिटेल

आइए जानते हैं एक से अधिक क्रेडिट कार्ड रखने के फायदे | Advantage of Multiple credit cards

  • अलग-अलग ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट पर सेल के दौरान अलग-अलग क्रेडिट कार्ड पर डिस्काउंट या कैशबैक के ऑफर मिलते हैं। ऐसे में अगर अलग-अलग बैंकों के कई कार्ड आपके पास होंगे तो आप कहीं से भी डिस्काउंट पर सामान ले सकते हैं।
  • कई बार पैसों की दिक्कत हो जाने के चलते क्रेडिट कार्ड का बिल चुकाना मुश्किल हो जाता है, तो ऐसी स्थिति में आप बैलेंस ट्रांसफर की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस सुविधा के तहत आप एक क्रेडिट कार्ड का बिल दूसरे क्रेडिट कार्ड से चुका सकते हैं। हालांकि, इसके लिए आपको कुछ ब्याज भी चुकाना पड़ता है।
  • अगर एक आम नौकरीपेशा शख्स एक ही कार्ड पर 10 लाख की क्रेडिट लिमिट चाहे, तो शायद ही बैंक उसे इतनी अधिक लिमिट दे, लेकिन अगर आप चाहें तो 1-1 लाख की लिमिट वाले 10 कार्ड अलग-अलग बैंकों से आसानी से ले सकते हैं।
  • जिनके पास कई क्रेडिट कार्ड होते हैं और वह अपने सभी क्रेडिट कार्ड के भुगतान समय से करते रहते हैं, उनका क्रेडिट स्कोर अच्छा रहता है।

आगे पढ़ें: DICGC संशोधन बिल को मिली मंजूरी, बैंक के डूबने पर ग्राहकों को 5 लाख रुपये तक की गारंटी दे रही सरकार, 90 दिनों के भीतर मिलेगा पैसा

आइए जानते हैं एक से अधिक क्रेडिट कार्ड रखने के नुकसान | Disadvantage of Multiple credit cards

  • जेब में कई क्रेडिट कार्ड रखने का मतलब है कि तमाम कार्ड से खरीदारी। यानी कि आप पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ता ही चला जा सकता है, क्योंकि क्रेडिट कार्ड से किया हुआ खर्च भी एक तरह का कर्ज ही होता है।
  • अगर आपके क्रेडिट कार्ड पर सालाना फीस भी लगती है तो आपको हर साल एक बड़ा अमाउंट सालाना फीस के नाम पर जमा करना होगा, जो आपका नुकसान ही है।
  • अधिक क्रेडिट कार्ड होने से आप ईएमआई के जाल में फंस सकते हैं। दरअसल, कोई भी सामान खरीदते वक्त आपको लगता है कि ये सामान खरीदने में तो हर महीने सिर्फ चंद हजार रुपये ही देने होंगे। लेकिन आपको पता भी नहीं चलता और थोड़ा-थोड़ा कर के आपके अलग-अलग कार्ड पर कई ईएमआई बन जाती हैं, जिनकी वजह से आपकी कमाई का एक बड़ा हिस्सा हर महीने ईएमआई में कटने लगता है।

आगे पढ़ें: टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने कही ये बात, भारत ने टेस्ला को अपना इलेक्ट्रिक कार प्लांट लगाने के लिए 1000 एकड़ की जमीन देने को तैयार है ये राज्य

आइए जानते हैं कैसे इस्तेमाल करें एक से अधिक क्रेडिट कार्ड | How to use multiple credit cards

  • क्रेडिट कार्ड का सही से इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है, वरना देखते ही देखते आप कर्ज के पहाड़ तले दब सकते हैं।
  • सिर्फ एक क्रेडिट कार्ड से बेहतर है कि आप 2-3 कार्ड रखें, लेकिन उससे अधिक कार्ड ना रखें।
  • साथ ही कोशिश करें कि आप लाइफटाइम फ्री क्रेडिट कार्ड लें, जिनमें सालाना फीस नहीं होती है। बहुत से बड़े-बड़े बैंक भी ऐसा कार्ड देते हैं।
  • जब एक से अधिक कार्ड लें तो सिर्फ एक मुफ्त वाउचर को ना देखें, बल्कि ये देखें कि उस अतिरिक्त कार्ड से आपको लंबे समय में क्या फायदा हो सकता है।

 

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.