बिहार खबरें

कोडरमा: बिहार के बक्‍सर में पदस्‍थापित प्रशिक्षु डीएसपी आशुतोष कुमार की सर्विस रिवॉल्‍वर से दुर्घटनावश गोली चल (Buxar DSP’s service revolver fired) गई। गोली डीएसपी के दोस्त को लगी। आनन- फानन में घायल युवक को निकट के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। घटना झारखंड के कोडरमा जिले के तिलैया बांध के पास हुई है।

Buxar DSP's service revolver fired

कोडरमा के एसपी डॉ. एहतेशाम वाकारिब ने बताया कि गोली चली है और एक की मौत हुई है। मामले की पुलिस जांच कर रही है। सूचना के बाद मृतक निखिल के परिजन कोडरमा पहुंच रहे हैं। बताया जाता है कि निखिल रंजन अपने तीन दोस्तों के साथ तिलैया डैम घूमने आया था। नहाने के क्रम में सेल्फी लेते समय गोली चली, जो निखिल को जा लगी। घायल अवस्था में उसे सदर हॉस्पिटल लाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। शव को कोडरमा थाने में रखा गया है। घटना की सूचना पाकर स्थानीय पुलिस निखिल के दोस्तों को लेकर घटनास्थल पहुंची। पुलिस निखिल के दोस्तों से पूछताछ कर रही है। उसके एक दोस्त के भागने की सूचना है।

आगे पढ़ें: बिहार डीजीपी एसके सिंघल का फरमान, ड्यूटी के दौरान वर्दी नहीं पहनने वाले पुलिसकर्मी पर होगी कार्रवाई

सुबह घटनास्थल पर पहुंची पुलिस को यहां से खीरा के ताजे छिलके, प्याज, लहसुन आदि के छिलके, शराब के कई खाली बोतल, पैकेट पत्तल, पत्थर से बने चूल्हा में जली लकड़ी आदि मिले हैं। इससे स्पष्ट हो रहा है कि लोगों ने यहां पिकनिक कर फुल मस्ती की थी। उल्लेखनीय है कि करीब 15 वर्ष पूर्व इसी स्थल के समीप झुमरीतिलैया के एक युवक पिंकू मोदी की हत्या उसके ही दोस्तों ने यहां विश्वास में लेकर कर दी थी। कई दिनों के बाद पुलिस को यहां से शव मिला था। बहरहाल डीएसपी आशुतोष के संबंध में जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार उसकी नियुक्ति बिहार लोक सेवा आयोग 56-59वीं बैच में पुलिस सेवा के लिए हुई थी।

Buxar DSP’s service revolver fired मृतक के परिजन देर रात कोडरमा थाना पहुंचे 

फरवरी 2021 में उन्‍होंने प्रशिक्षण समाप्ति के बाद बक्सर जिला के सिमरी थाना में प्रोबेशनर डीएसपी के तौर पर योगदान दिया था। कुछ दिन पूर्व ब्रह्मपुर इंस्पेक्टर थाना में योगदान दिया था। आशुतोष रोहतास जिला के छिनारी गांव का रहनेवाला है। बताया जाता है कि डीएसपी ने दो दिन पूर्व विभाग से छुट्टी ली थी। मामला हाइप्रोफाइल होने के कारण जिले के पुलिस अधिकारी इसपर ज्यादा कुछ बोलने से बच रहे हैं। जानकारी के अनुसार डीएसपी आशुतोष के पिता बिहार में सेवानिवृत्त जज हैं, वहीं दूसरी ओर मृतक निखिल रंजन के पिता बिहार के गया जिले के किसी थाना में सब इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत हैं।

मृतक के पिता ने डीएसपी समेत तीन लोगो पर लगाया हत्या का आरोप

मामले में पुलिस ने डीएसपी समेत तीन को गिरफ्तार किया है। मामले को लेकर मृतक निखिल रंजन के पिता ऋषिदेव प्रसाद सिंह ने डीएसपी आशुतोष समेत अन्य तीन युवकों पर उनके पुत्र की गोली मारकर हत्या का आरोप लगाया है। ऋषिदेव सिंह बिहार के गया जिला के चेरखी थाना में पुलिस अवर निरीक्षक हैं। चंदवारा पुलिस को दिए आवेदन में उन्होंने कहा है कि आशुतोष कुमार उनके पुत्र के साथ पुरानी रंजिश रखता है। पूर्व में भी एक बार पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था। इसके कारण घरवालों को पैसा चुकाने पड़े थे।

आगे पढ़ें: ड्रोन के खतरों को लेकर गया एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट जारी, सुरक्षा को लेकर कई अफसरों की हुई हाईलेवल मीटिंग

फिर आशुतोष नए तरीके से निखिल से पैसे की मांग कर रहा था। इस कारण से निखिल परेशान रहता था। शुक्रवार को आशुतोष उसके पुत्र को बिहारशरीफ से इंगेजमेंट में ले जाने की बात कहकर घर से बुलाकर ले गया था। आवेदन में उन्होंने डीएसपी आशुतोष के अलावा सौरभ कुमार (27 वर्ष), पिता अरविंद सिंह, महावीर नगर, दशरथा पश्चिम, थाना बेऊर पटना, और सूरज कुमार, (28 वर्ष), पिता राजकुमार यादव, गिरिडीह बाइपास रोड, कोडरमा को घटना में संलिप्तता का आरोपी बनाया है। उन्होंने स्पष्ट तौर डीएसपी आशुतोष पर उनकी सर्विस पिस्टल से निखिल की गोली मारकर हत्या का आरोप लगाया है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.