बिहार खबरें

बिहार: कटिहार में बेटी का अंतरजातीय विवाह कराने पर पिता को मिली सजा । पीड़ित व्यक्ति ने थाने में एक आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज करायी है। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ित परिवार से जानकारी ली और प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

कटिहार में बेटी का अंतरजातीय विवाह कराने पर पिता को मिली सजा

कटिहार में बेटी का अंतरजातीय विवाह कराने पर पिता को मिली सजा

दरअसल, थाना क्षेत्र के हथवाड़ा पंचायत के आदिवासी बिहार टोला में बेटी का अंतरजातीय विवाह कराने पर गांव के कुछ लोगों ने लड़की के पिता को रस्सी से बांधकर बेरहमी से पीटा। इतना ही नहीं एक लाख जुर्माना नहीं देने पर गांव छोडऩे का फरमान सुना दिया। पीडि़त का परिवार भय के माहौल में है। पीडि़त मताल हेम्ब्रम ने बताया कि उनकी पुत्री किरण कुमारी की शादी पहले झारखंड में हुई थी। बच्चा नहीं होने पर पति प्रताडि़त कर भगा दिया। बेटी की दूसरी शादी समीप के ही गांव रमनाकोल के लक्ष्मण लोहार से हमारे समाज के रीति रिवाज के साथ संपन्न हुआ था। बेटी ससुराल में पति के साथ खुश थी। उसको एक बेटी भी है।

कटिहार में बेटी का अंतरजातीय विवाह कराने पर पिता को मिली सजा

पीड़ित ने बताया कि पिछले दिनों बेटी मेरे घर आई हुई थी तभी रात में गांव का मर्रर सीताराम मरांडी, प्रधान मरांडी, तल्लू मरांडी और बबलू टूडू सभी उनके घर आए और कहा कि तुम्हारे ऊपर बेटी की दूसरी जाति में शादी करने को लेकर पंचायती है और गाली देने लगे। पीड़ित ने बताया कि बेटी की शादी संथाल जाति के ही लोहार से शादी की है। इसमें कौन सी गलत बात है।

एक लाख का लगाया जुर्माना

इस बात पर मर्रर के साथ आए लोग भी गाली गलौज करने लगे और मर्रर के आदेश पर मुझे पंचायत में ले गए और रस्सी से बांधकर मारपीट करने लगे। मर्रर के पुत्र ने एक लाख रुपये की मांग की। रुपये देने की बात कबूल करने पर उन्होंने मारना-पीटना बंद किया और रस्सी से खोल दिया। किसी तरह मैंने तीस हजार रुपये दिए तो मर्रर के दोनों पुत्रों ने कहा कि 70 हजार और देने हैं। दस दिन का समय दिया और कहा कि समय पर रुपया नहीं दोगे तो गांव से भगा देंगे। वहीं मर्रर ने मुझसे सादे कागज पर अंगूठे का निशान लगवा लिया।

आगे पढ़ें: नालंदा जिले में पहली बार कोर्ट ने सुनाया किशोर को उम्र कैद की सजा,आइए जानते हैं क्या है वजह

जानकारी के अनुसार फलका थाना क्षेत्र के हथवाड़ा पंचायत के बिहार टोला निवासी माताल हेंब्रम ने गांव के मर्रर व अन्य के विरुद्ध थाने में लिखित आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई है। थानाध्यक्ष उमेश पासवान के संज्ञान में आते ही घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ित परिवार से मिलकर मामले की जानकारी ली तथा आवेदन के आलोक में प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई में जुट चुके हैं।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.