बिहार खबरें

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर में बड़ा सड़क हादसा गुरुवार की देर रात हो गया। हादसे में छह लोगों के मारे जाने की सूचना है। जबकि तीन घायल अस्पताल में जिंदगी के लिए संघर्ष कर रहे हैं। मिली जानकारी अनुसार मुजफ्फरपुर से छपरा की ओर जा रहा ट्रक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे स्थित झोपड़ी में जा घुसा। इस दर्दनाक दुर्घटना में एक साथ पांच बच्चों की मौत की वजह से इलाके में चीख-पुकार मची हुई है। बच्चों की मौत से आक्रोश की संभावना को देखते हुए सरैया पुलिस इलाके में कैंप कर रही है। जानकारी के मुताबिक, मुजफ्फरपुर से छपरा की ओर एक ट्रक जा रही थी। बीती रात 8:30 बजे ट्रक अनियंत्रित होकर एनएच 722 के किनारे गांव में बने एक घर में घुस गई। यह घर ग्रामीण लच्छू पासवान का है।

मुजफ्फरपुर में बड़ा सड़क हादसा

मुजफ्फरपुर में बड़ा सड़क हादसा इन बच्चों की गई जान

मृतकों में चंदन पासवान की चार वर्षीय पुत्री अनिता कुमारी, लच्छू पासवान की छह वर्षीय पुत्री मनीषा कुमारी व पांच वर्षीय पुत्र गोलू कुमार, नथुनी पासवान की पांच वर्षीय पुत्री दुर्गा कुमारी और रामबाबू पासवान का चार वर्षीय पुत्र प्रियम कुमार की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। वहीं, मच्छू पासवान (45) ने इलाज के दौरान सरैया अस्पताल में दम तोड़ दिया। घायलों में लालबाबू पासवान की सात वर्षीय पुत्री अनामिका कुमारी, लच्छू पासवान की सात वर्षीय पुत्री रज्जू कुमारी व एक अज्ञात युवक शामिल है।

मुजफ्फरपुर में बड़ा सड़क हादसा

यह युवक संभवत: ट्रक का चालक है। गंभीर स्थिति में उसे सरैया पीएचसी से एसकेएमसीएच रेफर किया गया। इस दौरान दरवाजे पर बधीं दर्जनभर बकरियां भी ट्रक में दब गईं, जिन्हें मृत अवस्था में बाहर निकाला गया। दुर्घटना के शिकार अज्ञात युवक को छोड़कर सभी एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं। घटना को लेकर लोगों में  आक्रोश है। सूचना पर पहुंची पुलिस को ग्रामीणों ने लाश ले जाने से रोक रखा है। घटना गुरुवार की रात आठ बजे की बताई गई है।

हादसे के बाद मचा कोहराम

बताया यह भी जा रहा है कि ट्रक का चालक नशे में था। वह घटनास्थल के पहले से ही बेतरतीब तरीके से ट्रक चला रहा था। ट्रक सरैया से रेवा घाट छपरा की ओर जा रहा था। उधर हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने एनएच से गुजर रही कई वाहनों पर पथराव कर दिया जिसमें कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस कैंप कर रही है। सहदानी गांव में कोहराम मचा है। तनाव को देखते हुए और पुलिस बल को बुलाया जा रहा है।

आगे पढ़ें: इंजीनियर अविनाश कुमार को बीपीएससी 65वीं मेंस परीक्षा में मिली सफलता, रिजल्‍ट आने पर घर में हुआ मातम

बताते हैैं कि बच्चे दरवाजे पर पढ़ रहे थे। इसी दौरान ट्रक घर में घुस गया। लोगों ने बताया कि चालक नशे में धुत्त था। तेज आवाज सुनकर लोग मौके पर दौड़े। सभी बच्चे ट्रक के अंदर दबे थे। लोग कुछ समझ पाते, तब तक चार की मौत हो चुकी थी। किसी तरह अन्य घायलों को निकालकर सरैया पीएचसी भेजा गया।

आगे पढ़ें: फ्रांस में चंडीगढ़ के हेरिटेज फर्नीचर की होगी नीलामी, इन 3 चीजों की कीमत करोड़ों में

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घटना के बाद ग्रामीणों द्वारा पकड़े गए ट्रक चालक को झुड़ाया और उसे इलाज के लिए अस्पातला भेजा। हादसे के बाद सहदानी गांव में कोहराम मचा हुआ है। हादसा इतना दर्दनाक था कि बच्चों के शवों को निकालने के लिए पुलिस को क्रेन बुलानी पड़ी। बताया जा रहा है कि घटना का शिकार हुए अधिकांश बच्चे स्कूल के छात्र थे। लोगों ने प्रशासन से पीड़ितों के लिए मुआवजे और सड़क पर डिवाइडर बनाने की मांग की है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.