बिहार खबरें

बिहार में 5 साल तक के बच्चे में नाटेपन की समस्या हो रही है। 41 फ़ीसदी बच्चे गंभीर कुपोषण के दौर से गुजर रहे हैं। इससे ना केवल उनकी लंबाई और उनका वजन प्रभावित हो रहा है। बल्कि मानसिक विकास तक पर भी बुरा असर पड़ रहा है। बताते चलें कि 2015 से 16 में हुई एनएफएचएस-4 प्रदेश के 48.3 फ़ीसदी बच्चे होने पर पीड़ित थे।जबकि 2005-06 में यह आंकड़ा 55.6 फीसद था। इसका कारण स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुपोषण दूर करने के लिए चलाए गए कार्यक्रमों को माना जा रहा है। बौनापन कम करने में सबसे आगे शिवहर जिला रहा। यहां दोनों सर्वे के बीच 18.6 फ़ीसदी तक कम किया गया। वहीं 11.10 फीसद के साथ मुंगेर जिला पांचवें स्थान पर रहा।

बिहार में 5 साल तक के बच्चे में नाटेपन की समस्या

कुपोषण के कारण कई बीमारियां

बिहार में 5 साल तक के बच्चे में नाटेपन की समस्या से राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण वर्ष 2019 से 20 की रिपोर्ट चौंकाने वाली है। रिपोर्ट आने के बाद पोषण के साथ समाजिक विशेषज्ञों ने इसका विश्लेषण शुरू कर दिया है। विशेषज्ञों का मानना है कि केवल आंगनवाड़ी में चलने वाली योजनाओं के भरोसे बच्चे को कुपोषण से बाहर नहीं निकाला जा सकता है। रिपोर्ट के अनुसार पटना और नालंदा जैसे विकसित जिलों की स्थिति भी बदतर है। सूबे के 23 फ़ीसदी बच्चे का वजन उनकी उम्र और लंबाई के अनुसार नहीं बढ़ रहा है। वह सामान से अधिक पतले हैं। विशेषज्ञों के अनुसार पतलेपन का कुपोषण सबसे अधिक खतरनाक और जानलेवा माना जाता है। चिंता इसलिए भी है कि पिछले 4 वर्षों में सूबे के 38 में से 26 जिलों में इस ढंग के कुपोषण घटने के बजाय बढे हैं।

एनएफएचएस-4 के अनुसार शिवहर में 53 प्रतिशत बच्चे बचपन से ग्रसित थे। जो एनएफएचएस-5 में 18.6 फीसद कम होकर 34.4 फीसद हो गई है। यह कमी राज्य के औसत से 3 गुना से भी अधिक है। वैशाली दूसरी और खगड़िया तीसरे स्थान पर हैं। खगड़िया में बीते सर्वेक्षण का तुलना में 15 फीसद की कमी आई है। 11.5 फीसद कमी के सांप मुंगेर पांचवें स्थान पर हैं। https://www.biharkhabre.com/दुमका-asi-सस्पेंड/

स्वास्थ्य एवं कुपोषण मामलों के एक्सपर्ट अरविंद मिश्रा ने बताया कि सरकार को कुपोषण से लड़ने के लिए विशेष योजना तैयार करनी होगी। गर्भवती महिलाओं पर विशेष फोकस करना होगा।ताकि स्वस्थ बच्चे पैदा हो सके।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *