बिहार खबरें

बिहार में हाथरस जैसा कांड फिर से दोहराया गया। बिहार के मोतिहारी में 15 दिनों पूर्व एक नाबालिग बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई। आरोप है कि इस घटना के बाद आरोपियों ने जबरन दबाव डालकर बच्ची का शव केरोसिन व नमक डालकर जलवा दिया। यही नहीं इस मामले की स्थानीय थाने में कई दिनों तक एफआईआर तक नहीं दर्ज की गई। मृतका व उसके परिजन नेपाल के निवासी थे। इस घटना को आरजेडी ने बिहार का ‘हाथरस कांड’ बताया है।

बिहार में हाथरस जैसा कांड

पीड़ित परिवार लगातार पुलिस से मदद की गुहार लगाता गया लेकिन पुलिस ने एक ना सुनी। इसके बाद बच्ची के पिता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें पिता न्याय की अपील करते हैं। वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस के आला अधिकारियो के निर्देश पर कार्रवाई शुरू हुई। इस मामले में लापरवाही बरतने की वजह से संबंधित थाने के थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया गया।

आगे पढ़ें: दरभंगा सोना लूट कांड के दो अपराधियों को पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार, दरभंगा एसपी ने खबर की पुष्टि की

इधर घटना को लेकर 05 फरवरी को आरोपितों के साथ बातचीत करते थानेदार का ऑडियो वायरल होने पर एसपी नवीन चन्द्र झा ने थानेदार संजीव रंजन को निलंबित कर दिया। एसपी ने बताया कि हत्या की बात थानेदार को जानकारी थी। इसके बावजूद शव बरामद कर पोस्टमार्टम नहीं कराया और न ही एफआईआर दर्ज की गई। यही नहीं इसकी सूचना वरीय अधिकारी को भी नहीं दी। एसपी ने कहा कि आरोपितों के साथ थानेदार की गतिविधि की जांच कर अगली कार्रवाई की जायेगी।

तेजस्वी यादव इस घटना को बिहार का हाथरस कांड बताया

इस चौंकाने वाले मामले को लेकर बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी आरजेडी ने बिहार सरकार और पुलिस प्रशासन पर निशाना साधा है। पार्टी नेता तेजस्वी यादव ने इस घटना को बिहार का ‘हाथरस’ कांड बताया है। उन्होंने अपने ट्वीट कहा, ‘बिहार में हाथरस कांड की तरह एक 12 वर्षीय बच्ची की निर्मम हत्या कर उसकी लाश रातों-रात जला दी गई। पिता का कहना है बच्ची के साथ गैंगरेप हुआ। Audio में सुनिए पुलिस अधिकारी कैसे अपराधियों को लाश जलाने की तरकीबें सुझा रहे है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी नाकामयाबियों के सिकंदर बन गए हैं।

आगे पढ़ें: Bhagalpur Crime Today: बिहार पंचायत चुनाव को लेकर भागलपुर में मुखिया के बेटे पर चली गोली

बिहार में हाथरस जैसा कांड आइए जानते हैं क्या मामला 

दरअसल, मोतिहारी में 15 दिन पहले एक नाबालिग बच्ची की रेप के हत्या कर दी गई थी। मृतका के पिता का न्याय की गुहार लगाते एक वीडियो एसपी नवीन चंद्र झा तक जा पहुंचा। वीडियो की जांच में पता चला कि उक्त वीडियो नेपाल के रहने वाले बहादुर नाम के शख्स से जुड़ा है। जानकारी के मुताबिक, बहादुर मोतिहारी में अपने परिवार के साथ साह नाम के शख्स के मकान में किराये पर रहकर मेहनत मजदूरी करता था।

आगे पढ़ें: भागलपुर के स्वर्णिका ज्वेलर्स का दिनदहाड़े बेखौफ अपराधियों ने एक करोड़ का सोना लूटा, कोलकाता से लेकर आ रहा था सोना

21 जनवरी को बहादुर व उसकी पत्नी फेरी का काम करने बाहर गए हुए थे। घर पर उसकी 12 वर्षीय बेटी कुमारी अकेली थी।नाबालिग का भाई जब घर आया तो देखा कि उसकी बहन लहूलुहान हालत में पड़ी हुई है। आनन-फानन में वह पिता को सूचना देता है और फिर वे लोग बच्ची को अस्पताल ले जाते हैं।लेकिन वहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया।

मामले में एसपी ने एसआईटी का गठन किया

मामले में एसपी ने गंभीरता से लेते हुए थानेदार को निलंबित करने के बाद एसआईटी का गठन किया है। एसआईटी का नेतृ्त्व सिकरहना डीएसपी शिवेंद्र कुमार अनुभवी करेंगे। जांच टीम में आठ पुलिस अधिकारी और सिपाहियों को शामिल किया गया है। थानेदार पर एफआईआर हो सकती है।

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *