बिहार खबरें

बिहार का ताजा खबर: बिहार के गोपालगंज में नेशनल हाईवे पर पुलिस ने 35 करोड़ रुपये की चरस के साथ तीन नेपाली तस्करों को गिरफ्तार कर लिया। जिले के कुचायकोट थाने की पुलिस ने बलथरी चेक पोस्ट के समीप यह कार्रवाई की। गिरफ्तार किए गए तस्करों में नेपाल के वीरगंज के निवासी प्रकाश कुमार कुर्मी, विक्की कुमार श्रीवास्तव व नेपाल के ही मधुबन मथवल गांव के विनय कुमार सहनी शामिल हैं। बिहार में शराबबंदी के बाद कई इलाकों में अफीम, चरस, गांजा जैसी चीजों की खपत बढ़ गई है। इसका फायदा तस्‍कर खूब उठा रहे हैं

बिहार का ताजा खबर

गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर बदलकर चला रहा था

मिली जानकारी के अनुसार कुचायकोट थानाध्यक्ष अश्विनी कुमार तिवारी के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम बलथरी चेकपोस्ट पर वाहनों की जांच कर रही थी। इस क्रम में बिहार से उत्तर प्रदेश की तरफ जा रहे एक पिकअप को रोककर जब पुलिस ने इसकी छानबीन की तो पिकअप का रजिस्ट्रेशन नंबर ट्रैक्टर का निकला। जिसके बाद पुलिस ने पिकअप की गहराई से छानबीन शुरू की।

आगे पढें: बिहार में एमबीए का छात्र बना शराब तस्कर, 9 लाख रुपए थी रोज की कमाई

इस छानबीन में पुलिस ने पिकअप के केबिन के पीछे बने एक गुप्त तहखाने में छुपा कर लाया जा रहा 265 किलो चरस बरामद की। पुलिस के अनुसार अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत 35 करोड़ रुपये बताई जाती है। इस कार्रवाई में पुलिस ने इस रैकेट से जुड़े तीन तस्करों को गिरफ्तार कर लिया।

कुचायकोट थानाध्यक्ष अश्वनी कुमार तिवारी ने बताया कि बलथरी चेक पोस्ट पर सब इंस्पेक्टर नागेंद्र साहनी, साजिद खान, लालू कुमार, राम कुमार सिंह, अमित कुमार और रवि शंकर चौधरी के साथ वाहनों की जांच कर रहे थे। इस दौरान एक पिकअप को शक के आधार पर रोका गया। पिकअप की जब तलाशी ली गई तो उसमें बॉक्स बनाकर छुपा कर रखी गई करीब 2 क्विंटल 65 किलो चरस जब्त की गई।

आगे पढ़े: बिहार में नौकरियों की बहार 30 बाजार पदों पर होगी बहाली जल्द करें आवेदन

तीनों तस्कर नेपाली हैं

गिरफ्तार तस्करों में नेपाल के वीरगंज का निवासी प्रकाश कुमार कुर्मी, नेपाल के ही मथवल जिले के मधुबन का निवासी विनय कुमार साहनी और नेपाल के वीरगंज का ही निवासी विक्की कुमार श्रीवास्तव बताया जाता है। पुलिस की छानबीन में यह बात सामने आई कि जब्‍त की गई चरस नेपाल के बीरगंज से उत्तर प्रदेश के बरेली भेजी जा रही थी।

आगे पढ़े: बिहार के मोतिहारी में हाथरस जैसा कांड फिर से दोहराया गया, नाबालिग के साथ रेप के बाद शव को जबरन जलाया

इस पूरे नेटवर्क  के बैकवर्ड और फॉरवर्ड लिंकेज की छानबीन में पुलिस जुटी है। पुलिस द्वारा की गई इस बड़ी कार्रवाई में अवर निरीक्षक नागेंद्र साहनी, अवर निरीक्षक मोहम्मद साजिद, कांस्टेबल लालू कुमार और राजकुमार सिंह तथा चौकीदार अमित कुमार और रवि कुमार चौधरी शामिल रहे।

 

By Biharkhabre Team

मेरा नाम शाईना है। मैं बिहार के भागलपुर कि रहने बाली हूं। मैंने भागलपुर से MBA की पढ़ाई कंप्लीट की हूं। मैं Reliance में कुछ समय काम करने के बाद मैंने अपना खुद का एक ब्लॉग बनाया। जिसका नाम बिहार खबरें हैं, और इस पर मैंने देश-दुनिया से जुड़े अलग-अलग विषय में लिखना शुरू किया। मैं प्रतिदिन देश दुनिया से जुड़े अलग-अलग जानकारी अपने Blog पर Publish करती हूं। मुझे देश दुनिया के बारे में नई नई जानकारी लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *